Sunday, August 1, 2021

 

 

 

योगी सरकार- मंजुओं के बाद अब गौरक्षकों के नाम पर गुंडागर्दी करने वालो की बारी

- Advertisement -
- Advertisement -

जिस तरह से मुख्य मंत्री योगी ने सत्ता हाथ में लेते ही कार्यवाही चालु की है शायद ही अब तक का कोई सीएम ऐसा हो जिसने इस तरह तुरंत एक्शन लिया हो चाहे वो अवैध कसाई खानों पर लगाम हो या सड़क छाप मजनुओं की धरपकड़, इस समय जनता से अधिक प्रशासन के हाथ पाँव अधिक फूले हुए है, स्कूल कॉलेजों की सफाई हो रही है, मासाब ने जीन्स त्यागकर फॉर्मल कपडें पहनने शुरू कर दिए है.

लेकिन मुख्यमंत्री योगी अभी इस पर रुकने वाले नही है जैसा उन्होंने कहा था की प्रदेश में कानून का राज होगा उसी राह पर एक और कदम आगे बढाते हुए गौरक्षा के नाम पर गुंडागर्दी करने वालो पर सख्ती से निपटने के संकेत दिए है.

मुख्यमंत्री ने गुरुवार को वरिष्ठ अधिकारियों को गोरक्षा के नाम पर कानून हाथ में लेने वालों और मॉरल पुलिसिंग करने वाले तत्वों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री ने यह निर्देश हाथरस जिले में मीट की दुकानों को आग लगाए जाने की घटना के बाद दिया। ऐसी घटनाओं पर अपनी नाखुशी जाहिर करते हुए योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को हिदायत दी कि अगर इस तरह के मामले सामने आएं तो कड़ी कार्रवाई की जाए।

मुख्य सचिव राहुल भटनागर, प्रमुख सचिव (गृह) देबाशीष पांडा, डीजीपी जावीद अहमद समेत शीर्ष अधिकारियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए योगी ने कहा कि ऐसी घटनाओं से सख्ती से निपटना चाहिए। मुख्यमंत्री ने डीजीपी को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि अवैध बूचड़खानों की जांच के नाम पर आगजनी की घटनाएं फिर से ना हों।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles