Tuesday, January 25, 2022

पत्रकार का दावा – निर्भया कांड की पीड़िता के दोस्त ने आपबीती बताने की…..

- Advertisement -

राजधानी दिल्ली में साल 2013 में जब निर्भया गैंगरे’प की घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। घटना के सात साल बाद वरिष्ठ पत्रकार अजित अंजुम ने पीड़िता के दोस्त को लेकर सनसनीखेज खुलासा किया है।

वरिष्ठ पत्रकार अंजीत अंजुम ने ट्वीट कर कहा कि उन्होंने एक टीवी चैनल का संपादक रहते हुए इंटरव्यू देने के बदले निर्भया के दोस्त के सामने उसके चाचा को 70 हजार रुपये दिए थे। अंजीत अंजुम ने ट्वीट करते हुए दावा किया कि गैंगरे’प की रात पीड़िता के साथ मौजूद उसके दोस्त के सामने उसके चाचा को टीवी चैनल पर इंटरव्यू देने के एवज में 70 हजार रुपये दिए थे।

उन्होने लिखा, ‘वाकया सितंबर 2013 का है। निर्भया कांड के आरोपियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई थी। सभी चैनलों पर निर्भया कांड के बारे में लगातार कवरेज हो रही थी। मैं उस वक्त ‘न्यूज 24′ का मैनेजिंग एडिटर था। निर्भया का दोस्त कुछ चैनलों पर उस जघन्य कांड की कहानी सुना रहा था। मैंने भी अपने रिपोर्टर्स को निर्भया के दोस्त को अपने स्टूडियो लाने की जिम्मेदारी दी। कुछ देर में मुझे बताया गया कि उसका दोस्त अपने चाचा के साथ ही स्टूडियो जाता है और इसके बदले हजारों रुपए लेता है। सुनकर पहले तो यकीन नहीं हुआ। उस लड़के पर बहुत गुस्सा भी आया।’

ajit anjum 1
वरिष्ठ पत्रकार – अजित अंजुम

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा ‘मैं इस बात पर बौखलाया था कि जिस लड़के के सामने उसकी गर्लफ्रेंड गैंगरे’प और दरिंदगी की शिकार होकर दुनिया से रुखसत हो गई हो, उसकी दास्तान सुनाने के बदले वो लड़का चैनलों से ‘डील’ कर रहा है। मैं उसको लगातार टीवी पर देख रहा था। मुझे उसकी आंखों में कभी दर्द नहीं दिख रहा था।’

उन्होंने आगे कहा ‘इतना कुछ जानकर मैंने स्टिंग करने का फैसला किया। स्टूडियो इंटरव्यू के लिए 70 हजार दिए गए। स्टूडियो में जब वह आया तो हमने इंटरव्यू के दौरान ही उससे सवाल किया कि आप उस रात की आपबीती सुनाने के लिए पैसे लेते हैं। हालांकि इस इंटरव्यू को सिर्फ रिकॉर्ड किया गया और ऑन एयर नहीं किया गया। मुझे लगा कि अगर इसे ऑन एयर किया जाएगा तो आरोपी इसका फायदा उठा लेंगे।’

पत्रकार ने आगे बताया ‘मैंने इंटरव्यू के बाद निर्भया के दोस्त को खूब जलील किया। मैंने उससे कहा कि तुम्हारी दोस्त तुम्हारी आंखों के सामने दरिंदगी की शिकार हुई, तुम बच गए वो मर गई और तुम उस वारदात को सुना-सुनाकर चैनलों से लाखों रुपए कमाने में लगे हो?

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles