Saturday, July 31, 2021

 

 

 

आयुष्मान भारत योजना के नाम पर फर्जी वेबसाइट से कर रहे थे ठगी, चार आरोपी गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

राजधानी दिल्ली में आयुष्मान भारत योजना के नाम पर फर्जी वेबसाइट से ठगी करने के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। इसमें एक महिला भी शामिल है। इन लोगों ने 4000 से ज्यादा लोगों से धोखाधड़ी की थी और रजिस्ट्रेशन कराने के नाम पर 300 से 500 रुपये वसूल किए थे।

इन लोगों ने ऑनलाइन घोटाले को अंजाम देने के लिए अर्ध शहरी और ग्रामीण इलाकों में शिविरों का आयोजन भी किया था। दिल्ली पुलिस के आला अधिकारी के मुताबिक जिन लोगों को गिरफ्तार किया गया है उनके नाम उमेश निवासी खुर्जा (उत्तर प्रदेश), रजत निवासी नोएडा, गौरव निवासी खुर्जा (उत्तर प्रदेश) और सीमा रानी शर्मा निवासी गाजियाबाद शामिल हैं।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल की साइबर शाखा को राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण, आयुष्मान भारत और प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना भारत सरकार की तरफ से एक शिकायत मिली थी जिसमें बताया गया था कि अथॉरिटी को जनता के की ओर से केंद्र सरकार की एक फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों को भर्ती कराए जाने के नाम पर धोखाधड़ी किए जाने का पता चला है।

पुलिस उपायुक्त (साइबर प्रकोष्ठ) अन्येष रॉय ने कहा कि तकनीकी विश्लेषण के आधार पर गिरफ्तारी की गई है और आरोपियों के पास से 1 लैपटॉप, 4 मोबाइल फोन और एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान आरोपियों ने खुलासा किया कि उन्होंने भारत सरकार की आयुष्मान भारत योजना के नाम पर लोगों से ठगी करने की साजिश रची।
इसके लिए उन्होंने पहले आयुष्मान योजना ट्रस्ट बनाया और वेब डिजाइनर होने के नाते आरोपी रजत सिंह ने सरकारी वेबसाइट की तरह एक वेबसाइट डिजाइन की। उन्होंने बताया कि इस संबंध में जांच जारी है और अन्य आरोपियों को पकड़ने की कोशिश हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles