नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के कार्यक्रम का न्योता स्वीकार कर लिया है. वह नागपुर में आरएसएस के उन कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे.

इस दौरान वे संघ के शैक्षिक पाठ्यक्रम का तृतीय शिक्षा वर्ग पास करने वाले ही पूर्णकालिक प्रचारक को संबोधित करेंगे. आरएसएस के साथ पूर्व राष्ट्रपति के कार्यालय ने भी इस यात्रा की पुष्टि कर बताया कि मुखर्जी इस कार्यक्रम में दो दिन शामिल होंगे.

बता दें कि इससे पहले 11 अक्टूबर 2014 को तत्कालीन उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी भी आरएसएस के कार्यक्रम ‘एन्साइक्लोपीडिया ऑफ हिंदुज्म’ के विमोचन में हिस्सा ले चुके हैं.

कांग्रेस ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यक्रम में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किये जाने के मामले में टिप्पणी करने से आज इन्कार कर दिया है. पार्टी ने सिर्फ यह कहा कि वह इस कार्यक्रम समाप्त होने के बाद ही कुछ कह सकेगी.

कांग्रेस के प्रवक्ता टॉम वडक्कन ने संवाददाताओं से कहा, ‘फिलहाल इस मामले पर हम कोई टिप्पणी नहीं करेंगे. इस कार्यक्रम को होने दीजिये. उसके बाद हम कुछ कह सकेंगे.’ उन्होंने इतना जरूर कहा है, ‘आरएसएस और हमारी विचारधारा में बहुत अंतर है. यह वैचारिक फर्क आज भी है और आगे भी रहेगा.’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?