पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली ने दुनिया को कहा अलविदा, एम्स में ली आखिरी सांस

6:06 pm Published by:-Hindi News

देश के पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी  के वरिष्ठ नेता अरुण जेटलीका शनिवार को निधन हो गया। वह बीते कई दिनों से एम्स में भर्ती थे। उन्होने दोपहर 12 बजकर सात मिनटपर आखिरी सांस ली। उनके पार्थिव शरीर एम्स से घर ले जाया जा रहा है।

बीजेपी नेता सुधांशु मित्तल के मुताबिक रविवार दोपहर निगमबोध घाट में अंतिम संस्कार किया जाएगा। जेटली का निधन  पर एम्स में हो गया। उनका कुछ सप्ताह से अस्पताल में इलाज चल रहा था। वह 9 अगस्त को एम्स में भर्ती हुए थे।

एम्स में औपचारिकताओं के बाद जेटली के पार्थिव शरीर को उनके कैलाश कॉलोनी स्थित आवास पर ले जाया गया है। रविवार सुबह उनका पार्थिव शरीर बीजेपी मुख्यालय ले जाया जाएगा जहां राजनीतिक दलों के नेता उन्हें अंतिम विदाई देंगे। बीजेपी मुख्यालय से पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए निगमबोध घाट ले जाया जाएगा।

आज ही अरुण जेटली से मिलने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन एम्स पहुंचे थे। अरुण जेटली के निधन की खबर सुनने के बाद गृह मंत्री अमित शाह हैदराबाद से वापस लौट रहे हैं। पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह स्पीकर ओम बिडला अरुण जेटली को देखने एम्स पहुंचे थे।

इसी साल मई महीने में अरुण जेटली की किडनी ट्रांसप्लांट की गई थी। अरुण जेटली कैंसर का इलाज करवाने अमेरिका भी गए थे। सेहत संबंधी समस्याओं की वजह से अरुण जेटली ने इस बार का लोकसभा चुनाव नहीं लड़ा था। मई में जेटली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कहा था कि स्वास्थ्य कारणों से वो नई सरकार में कोई ज़िम्मेदारी नहीं लेना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अरुण जेटली के निधन पर शोक जताया है। पीएम मोदी ने कहा है कि जेटली महान राजनीतिक पुरोधा थे, और न्याय जगत की जानी-मानी हस्ती थे। पीएम ने कहा कि उन्होंने भारत की राजनीति में कई योगदान दिए, उनका निधन बेहद निराश करने वाला है। पीएम ने कहा कि उन्होंने अरुण जेटली की पत्नी संगीता और उनके बेटे रोशन से बात की है और दुख जताया है।

Loading...