मोदी कैबिनेट में विदेश राज्य मंत्री का पदभार सँभालते ही एमजे अकबर को खाड़ी देशों के साथ भारत के रिश्तों की देखभाल की जिम्मेदारी सौंपी गई है. माना जाता है कि एमजे अकबर को खाड़ी और उसकी राजनीति में महारत हासिल है.

अकबर की जिम्मेदारी में यूरोपीय संघ, मध्य एवं पश्चिमी यूरोप के साथ भारत के संबंध भी शामिल हैं. अकबर को पश्चिम अफ्रीका और यूरेरिशयाई देशों के साथ द्विपक्षीय संबंध की भी जिम्मेदारी दी गई है. हालांकि फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटेन उनकी जिम्मेदारी से बाहर हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

खाड़ी क्षेत्र में करीब 50 लाख भारतीय रहते हैं और वह भारत की ऊर्जा सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण हैं. विदेश मंत्रालय में वीके सिंह के साथ दूसरे राज्य मंत्री एमजे अकबर संयुक्त राष्ट्र से संबंधित मुद्दे भी संभालेंगे.

Loading...