flipkart 625x300 1529976929841

ई-कॉमर्स साइट फ्लिपकार्ट पर कुछ दिनों पहले कोलकाता में एक फुटबॉल प्रशंसक ने  दो हेडफोन ऑर्डर किये थे। लेकिन कंपनी ने हेडफोन की जगहउसे तेल की बोटल भेज दी। जब इस बारे मे उसने फ्लिपकार्ट को शिकायत के लिए पैकेट पर छपे नंबर पर फोन किया तो उसे बीजेपी की मैम्बरशिप दे दी गई।

युवक ने बताया कि कंपनी की सर्विस से नाराज उसने गुस्से में फ्लिपकार्ट को शिकायत के लिए पैकेट पर दिए नंबर फोन किया, लेकिन फोन एक रिंग जाने के बाद कट गया। युवक ने जब दूसरी बार फोन लगाया तो उससे पहले उसके मोबाइल पर एक मैसेज आया।जिसकी शुरुआत में लिखा था ‘वेलकम टू बीजेपी’ यानी बीजेपी में आपका स्वागत है।

इस मैसेज में आगे प्राइमरी मेंबरशिप नंबर (प्राथमिक सदस्यता नंबर) भी लिखा था और आगे की प्रक्रिया पूरी करने के लिए अगले स्टेप को फॉलो करने का निर्देश दिया गया था। उसके बाद युवक ने उस नंबर को दोबारा डायल किया तो फिर से उसे वही मैसेज मिला।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके बाद उसने अपने दोस्तों को भी नंबर दिया और उन्हें भी फोन करने पर यही मैसेज मिले। इससे उन्हें एहसास हुआ कि दिया गया 1800 266 1001 नंबर बीजेपी का है। इस बारें मे पश्चिम बंगाल के भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा कि, ‘बीजेपी का नंबर वेबसाइट और फेसबुक समेत तमाम जगहों पर है। कोई भी इसे शेयर कर सकता है। आप खुद कर सकते हैं. यह हमारी जिम्मेदारी नहीं है’।

वहीं फ्लिपकार्ट ने एक बयान में कहा कि उसने यह नंबर 3 साल पहले छोड़ दिया था।  हालांकि यह पैकिंग के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले टेप पर प्रिंट था। कुछ टेप अभी भी इस्तेमाल में हैं। कंपनी ने कहा कि, ‘संभव है कि ऑपरेटर ने यह नंबर दोबारा अलॉट कर दिया हो, क्योंकि अक्सर ऑपरेटर किसी नंबर के 6 महीने तक इस्तेमाल में न होने के बाद उसे दोबारा दूसरे कस्टमर को अलॉट कर देते हैं’

Loading...