wasim11

इस्लाम धर्म के खलीफाओं और पैगंबर मुहम्मद (सल्ल.) के साथियों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान देने के मामले में शिया वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।

लखनऊ की सहाबा एक्शन कमेटी की और से चौक थाना में तहरीर दी गई। जिसमे रिजवी के उस बयान का हवाला दिया गया जिसमे उन्होने कहा था, भगवान राम उनके सपने में आकर रोते हैं। ऐसा अयोध्या में मंदिर नहीं बनने के कारण हो रहा है। साथ ही हजरत अबु बकर सिद्दिक (रजि.) के खिलाफ भी टिप्पणी की गई थी।

एक्शन कमेटी के अध्यक्ष वहीद फारुकी की तहरीर पर वसीम रिजवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। एक्शन कमेटी ने कहा कि इस तरह की बयानबाजी और गलत शब्दों के इस्तेमाल से धार्मिक भावनाएं आहत होती हैं। सभी अपने मज़हब का अपने हिसाब से अनुशरण करते हैं और अपने धार्मिक पूर्वजों को मानते हैं। उनके खिलाफ अनावश्यक रूप से कुछ कहना ठीक नहीं है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस मामले में पुलिस ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। जांच के बाद जरूरी कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि रिजवी ने कहा था कि मुस्लिमों को उनके बताये इस्लाम पर नहीं चलना चाहिए। उन्होंने उनके लिए गलत शब्दों का भी इस्तेमाल किया।

वसीम रिजवी इस्लाम और मुस्लिमों के खिलाफ लगातार बयानबाजी करते आ रहे हैं। हरे झंडे को वह माहौल बिगाड़ने वाला झंडा बताकर बैन की मांग कर चुके हैं।

Loading...