साम्प्रदायिकता फ़ैलाने के आरोप में सुदर्शन चैनल के चीफ़ एडिटर के खिलाफ FIR दर्ज

दो धर्मों के बीच साम्प्रदायिकता तनाव भड़काने को लेकर सुदर्शन चैनल के संपादक एवं प्रबंध निदेशक (सीएमडी) के खिलाफ यूपी के संभल में FIR दर्ज की गई हैं.

संभल पुलिस स्टेशन के एसएचओ ब्रिजमोहन गिरि ने जानकारी देते हुए कहा कि आईआरसी के विभिन्न धाराओं के तहत यह एफआईआर दर्ज की गई हैं. जिसमें धर्म, जाति के आधार पर आपस में दुश्मनी को बढ़ावा दिए जाने का मामला बनता हैं.

याद रहे इससे पहले मालिक सुरेश चव्हाण पर नाबालिग लड़की से बलात्कार करने वाले हिन्दू धर्म के संत आसाराम के बलात्कारी पुत्र नारायण साईं के साथ चैनल की पूर्व महिला कर्मचारी के साथ बालात्कार करने के आरोप में भी मामला दर्ज हैं.

पीड़िता ने शिकायत में आरोप लगाया था कि नारायण साईं के जेल जाने से पहले सुरेश चव्हाण ने उसे करोल बाग में उसके आश्रम में इंटरव्यू करने के बहाने भेजा था. जहां नारायण साईं ने भी उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके अलावा चव्हाण ने उसके जेवर और 5 लाख रुपये भी हड़प लिए.

पीड़ित महिला चव्हाण की पीए थी. पीडिता का आरोप था कि चैनल मालिक सुरेश चव्हाण उसके साथ लगातार बलात्कार करते रहा. विरोध करने पर उसने महिला की हत्या का भी प्रयास किया.

विज्ञापन