Sunday, August 1, 2021

 

 

 

यूपी: विवादित बयान देने के मामले में मौलाना तौकीर रजा के खिलाफ FIR

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तर प्रदेश के सम्भल (Sambhal) जिले में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी,गृहमंत्री अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विवादित बयानबाजी के आरोप में बरेलवी संप्रदाय के धर्मगुरू और इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी) संस्थापक तौकीर रजा के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने सोमवार को बताया कि मौलाना तौकीर रजा ने 16 फरवरी को संभल में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में धरने पर बैठी महिलाओं को संबोधित करते हुए मोदी, शाह और योगी के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया था जिसका संज्ञान लेते हुए नखासा थाने के दरोगा राम भूल की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।

मौलाना तौकीर रजा के खिलाफ भारतीय दण्ड विधान की धारा 504 (शांति भंग करने के इरादे से जानबूझकर अपमान करना), 505 (उकसाने) और 153-क (विभिन्न समूहों के बीच दुश्मनी पैदा करने वाले काम करना) में मामला दर्ज किया गया है।

मौलान तौकीर रज़ा ने पीएम नरेंद्र मोदी के नाम से ‘न’ और अमित शाह के नाम से ‘शा’ शब्द लेकर नशा शब्द गढ़ा। मौलाना ने कहा कि “यह ‘नशा’ आसानी से उतरने वाला नहीं है। जब तक यह उतरेगा नहीं, तब तक दोनों मिलकर देश का नाश कर चुके होंगे। लेकिन दोनों का नशा एक दिन जरूर उतरेगा। हमें मिलकर उतारना है।”

दूसरी और शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने मौलाना तौकीर रजा के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सहमति और असहमति हो सकते हैं. लेकिन जब आप प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के खिलाफ बयान देते हैं तो समझना चाहिए कि आप देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ बयान देते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles