haram

इस्लाम धर्म की सबसे पवित्र जगह मक्का के हरम में तिरंगे के साथ फोटो लेने के आरोप में भारतीय पिता-पुत्र को गिरफ्तार किया गया है। हालांकि भारतीय दूतावास के हस्तक्षेप के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया। जहां अदालत ने उन्हें रिहा कर दिया।

जानकारी के अनुसार, वडोदरा निवासी इम्तियाज अली अपने परिवार के साथ गत दिनों उमरा के लिए मक्का गए थे। शुक्रवार को वह मक्का मस्जिद के पास अपने पुत्र उजैर के साथ तिरंगा लहराते हुए फोटो खींचने लगे। इस पर सऊदी अरब की पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया।

ट्विटर के जरिये जेद्दा स्थित भारतीय दूतावास को मामले की जानकारी हासिल हुई। जिसके बाद दूतावास के अधिकारियों ने इम्तियाज और उजैर से पुलिस थाने में मुलाकात की। अधिकारियों के अनुसार हस्तक्षेप के बाद शुक्रवार को उजैर को रिहा कर दिया गया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इम्तियाज को रिहा करने के लिए हरसंभव प्रयास जारी है। दूतावास लगातार ट्वीट कर लोगों को मामले की जानकारी देता रहा। रात करीब नौ बजे दूतावास ने ट्वीट कर इम्तियाज को रिहा करा लिए जाने की जानकारी दी। बता दें कि हरम इलाके में झंडा लहराना बैन है।

भारतीय मिशन ने ट्वीट किया कि हमारे अधिकारी ने इम्तियाज अली और उनके बेटे उजैर अली से हरम पुलिस थाने में मुलाकात की। हमारे हस्तक्षेप के बाद उजैर अली को रिहा कर दिया गया।’

मिशन ने आगे ट्वीट किया, ‘हमारे समय रहते हस्तक्षेप करने के बाद इम्तियाज को भी रिहा कर दिया गया। सपॉर्ट के लिए स्थानीय सरकार सहित सभी का शुक्रिया। ऑल इंडिया हज और उमरा तीर्थयात्री कृपया ध्यान दें कि हरम में फ्लैग डिस्प्ले करना बैन है।’

Loading...