जम्मू व कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर अब भी विरोध-प्रदर्शन जारी है।प्रदर्शन करने को लेकर राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला की बेटी साफिया और बहन सुरैया समेत 6-7 महिलाओं को हिरासत में लिया गया है।

बताया जा रहा है कि अब्दुल्ला की बहन सुरैया और उनकी बेटी साफिया महिला कार्यकर्ताओं की समूह को लीड कर रही थीं, जिन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया। ब्लैक आर्म बैंड पहने और तख्तियां पकड़े हुए महिला प्रदर्शनकारियों को पुलिस कर्मियों द्वारा इकट्ठा होने की अनुमति नहीं दी गई थी।

बताया जा रहा है कि सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) की महिला जवानों ने प्रदर्शनकारियों को पुलिस वाहन में बैठने के लिए कहा तो उन्होंने इनकार कर दिया। साथ ही, सड़क पर ही बैठने की कोशिश की।

ये सभी राज्य से आर्टिकल 370 हटने और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेश में बांट जाने के फैसले का विरोध कर रही थीं। होर्डिंग्स के साथ ये महिलाएं लाल चौक पर इकट्ठा हुई थीं,  जिसके बाद पुलिस ने उन्हें अलग-थलग किया और दर्जन भर महिला कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया।

महिलाओं ने कहा, ‘‘केंद्र सरकार के इस फैसले से हम खुद को धोखा खाए हुए लोगों की तरह महसूस कर रहे हैं। कश्मीर में नागरिक स्वतंत्रता और लोगों के मौलिक अधिकारों की बहाली की जाए।’’

प्रदर्शनकारी महिलाओं ने कहा कि हिरासत में लिए गए लोगों को तुरंत रिहा किया जाए। साथ ही, राज्य के शहरी व ग्रामीण इलाकों से फौज हटाई जाए। उन्होंने कहा कि नेशनल मीडिया कश्मीर की जमीनी हकीकत की कवरेज गलत तरीके से कर रहा है। हम इसका विरोध करते हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन