Tuesday, June 22, 2021

 

 

 

सोनीपत में किसानों ने रिलायंस मॉल पर जड़ा ताला, अब करेंगे रेल ट्रैक और हाइवे जाम

- Advertisement -
- Advertisement -

नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर अड़े किसानों और केंद्र सरकार के बीच कोई बार बनती नजर नहीं आ रही है। केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसानों से आंदोलन खत्म करने की गुजारिश की। लेकिन किसानों ने आंदोलन खत्म करने के बजाय तेज करने का ऐलान कर दिया।

किसानों ने दिल्ली जयपुर और दिल्ली आगरा हाईवे को 12 दिसंबर से बंद करने का ऐलान किया है। साथ ही किसानों ने देशभर के सभी टोल नाकों को भी टोल फ्री करने की घोषणा कर दी। इसके साथ ही 14 दिसंबर को देशभर में बीजेपी नेताओं के घेराव से लेकर जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन की योजना है।

हरियाणा के सोनीपत में तो किसानों ने रिलायंस मॉल ही बंद करवाकर उस पर ताला लगवा दिया। आंदोलन कर रहे किसानों ने अंबानी और अडानी का बॉयकाट करने का भी ऐलान किया है। दूसरी और कृषि मंत्री ने कहा कि हमने बहुत सोच समझकर कानून बनाया है, किसी के बहकावे में किसान न आएं।

कृषि मंत्री ने कहा, “सरकार किसानों से आगे और वार्ता करने को इच्छुक और तैयार है। उनकी आशंकाओं को दूर करने के लिए, हमने किसान यूनियनों को अपने प्रस्ताव भेजे हैं। हमारी उनसे अपील है कि वे जितना जल्द से जल्द संभव हो वार्ता की तिथि तय करें। अगर उनका कोई मुद्दा है, तो उस पर सरकार उनसे वार्ता को तैयार है।”

उन्होंने कहा, “हमने किसानों को उनसे मिलने के बाद अपने प्रस्ताव दिए और इसलिए हम उनसे उन पर विचार करने का आग्रह करते हैं। यदि वे उन प्रस्तावों पर भी चर्चा करना चाहते हैं, तो हम इसके लिए भी तैयार हैं।” यह पूछे जाने पर कि क्या विरोध के पीछे कोई और शक्तियां मौजूद हैं, तोमर ने इस प्रश्न का कोई सीधा जवाब नहीं दिया और कहा, “मीडिया की आंखें तेज हैं और हम इसका पता लगाने का काम उस पर छोड़ते हैं।”

मंत्री ने कहा, “हम ठंड के मौसम और मौजूदा कोविड-19 महामारी के दौरान विरोध कर रहे किसानों के बारे में चिंतित हैं। किसान यूनियनों को सरकार के प्रस्ताव पर जल्द से जल्द विचार करना चाहिए और फिर जरूरत पड़ने पर हम अगली बैठक में इस पर फैसला कर सकते हैं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles