Thursday, June 17, 2021

 

 

 

कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने शुरू की भूख हड़ताल

- Advertisement -
- Advertisement -

देश में कृषि कानूनों (Krishi Kanoon) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी। दिल्ली के सिंधु बॉर्डर से लेकर यूपी-दिल्ली सीमा के गाजीपुर तक किसान आज सुबह 8 से 5 बजे तक उपवास करेंगे।

दिल्ली के आसपास के क्षेत्रों में प्रदर्शन कर रहे किसान नेताओ ने रविवार को बैठक की। बैठक में तय किया गया कि किसान सिंधु, टीकरी, पलवल, गाजीपुर सहित सभी नाको पर अनशन पर बैठेंगे। किसान आंदोलन के चलते आज सिंघु, औचंदी, पियाउ मनियारी, मंगेश बॉर्डर पर ट्रैफिक बंद कर दिया गया है।

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि नेता अपने-अपने स्थानों पर सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक भूख हड़ताल करेंगे। उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘देशभर के सभी जिला मुख्यालयों में धरने दिये जाएंगे। प्रदर्शन इसी प्रकार चलता रहेगा.’ साथ ही किसान सिंधु, टिकरी, पलवल, गाजीपुर सहित सभी नाकों पर अनशन पर बैठें।

इस बीच केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी ने कहा कि सरकार जल्द ही बैठक की नयी तिथि तय करेगी। उन्होंने उम्मीद जतायी कि बार मुद्दे का हल निकल जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार गतिरोध को खत्म करने के लिये रास्ते तलाश रही है। अगली बैठक में मुद्दा सुलझ जाएगा।

किसान नेता बलदेव सिंह सिरसा ने कहा कि अब सरकार को ही कुछ करना है किसान को नहीं। जब तक सरकार कृषि कानून वापस नही लेती है, उनका आंदोलन जारी रहेगा। उन्होने कहा, सरकार किसानों के धैर्य की परीक्षा न ले। पहले किसानों को पाकिस्तानी कहा, फिर कहा कि चीन इस आंदोलन को चला रही है और अब कह रहे हैं कि नक्सली कह रहे हैं। हम अपना शांतिपूर्वक आंदोलन जारी रखेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles