Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

किसानों ने 8 दिसंबर को बुलाया भारत बंद, कांग्रेस सहित दर्जन भर दलों ने दिया समर्थन

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानो ने अब आंदोलन को रफ्तार देने के लिए 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। इस बंद को कांग्रेस सहित दर्जन भर दलों ने अपना समर्थन दिया है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा, “कांग्रेस ने 8 दिसंबर को भारत बंद का समर्थन करने का फैसला किया है। हम अपने पार्टी कार्यालयों पर भी प्रदर्शन करेंगे। यह किसानों को राहुल गांधी के समर्थन को मजबूत करने वाला कदम होगा। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि प्रदर्शन सफल हो।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी जानकारी देते हुए कहा कि आम आदमी पार्टी किसानों के भारत बंद के समर्थन में है। केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘आम आदमी पार्टी आठ दिसंबर को किसानों के ‘भारत बंद’ के आह्वान का पूरी तरह समर्थन करती है। देशभर में आप कार्यकर्ता शांतिपूर्ण तरीके से इसका समर्थन करेंगे। सभी देशवासियों से अपील है कि सभी को किसानों का समर्थन करना चाहिए और इसमें भाग लेना चाहिए।’

वहीं अखिलेश यादव ने भी सोमवार को किसानों के समर्थन में एक पदयात्रा निकालने की बात कही। उन्होंने कहा कि ‘मैंने इन गलत कानूनों के खिलाफ और दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों के समर्थन करने के लिए हर जिले में किसान यात्रा शुरू करने का फैसला किया है। मैं सोमवार से कन्नौज मंडी से किशन बाजार तक एक मार्च शुरू करूंगा। सरकार से इन कानूनों को रद्द करने के लिए कहूंगा। उन्होंने आगे कहा कि सरकार तीनों किसान विरोधी कानून वापस नहीं लेती है तो उनकी पार्टी पूरे प्रदेश में लगातार पदयात्रा आयोजित करेगी।’

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख एवं  तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने आठ दिसंबर को किसानों के ‘भारत बंद’ के आह्वान को अपना पूर्ण समर्थन व्यक्त किया है। राव ने एक बयान में कहा कि टीआरएस प्रस्तावित बंद में सक्रिय भागीदारी  करेगी। उन्होंने दोहराया कि नया कृषि कानून किसानों के हितों को व्यापक  नुकसान पहुंचायेगा , इसीलिए उनकी पार्टी ने संसद में इसका विरोध किया था।

उन्होंने कहा कि आंदोलन को तब तक जारी रखना होगा , जब तक कृषि कानूनों को  वापस नहीं ले लिया जाता। उन्होंने जोर दिया कि टीआरएस भारत बंद को सफल  बनाने के लिए पुरजोर काम करेगी। उन्होंने आम जनता से भी किसानों का साथ देने और बंद का सफल बनाने की अपील की।

ऑल इंडिया किसान संघर्ष कोऑर्डिनेशन कमिटी के बैनर तले बुलाए गए भारत बंद में देशभर के 400 से ज्‍यादा किसान संगठन शामिल हैं। तृणमूल कांग्रेस, राष्ट्रीय लोक दल, राजद, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) और सपा ने भी भारत बंद का समर्थन किया है। लेफ्ट पार्टियों में सीपीआई, सीपीआईएम, सीपीआई (एमएल), RSP और ऑल इंडिया फॉरवर्ड ब्लॉक ने भी बंद का समर्थन किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles