Saturday, December 4, 2021

कासिम के परिजन बोले – पुलिस ने पहले से तैयार कर रखी थी रोडरेज की तहरीर’

- Advertisement -

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हापुड़ जिले के बझेड़ा गांव में गौकशी के आरोप में पीट-पीट कर मार दिए गए कासिम और घायल समयदीन के परिवार ने बीते शुक्रवार को दिल्ली स्थित प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस की।

इस दौरान परिजनों ने यूपी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए। परिवार ने आरोप लगाया कि पुलिस ने पहले से रोड रेज की तहरीर तैयार की हुई थी जिस पर उनसे अंगूठा लगवाया।परिजनों ने ये आरोप यूनाइटेड अगेंस्ट हेट की तरफ से आयोजित की गई प्रैस कोंफ्रेंस लगाया।

समयदीन के भाई मेहरुद्दीन ने पत्रकारों से बताया  कि जब उन्हें पता चला उनके भाई के साथ ये घटना हुई है वो बहुत डरे हुए थे। वे अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित थे। उन्होंने कहा,”हमसे पुलिस ने पूछा कि आप चाहते क्या हैं? हमने कहा कि इंसाफ चाहिए तो पुलिस ने कहा इस पर दस्तखत कर दें.”

kasim

मेहरुद्दीन ने बताया, जब वह अपने घायल भाई के पास पहली बार पंहुचे तो उन्होंने देखा कि घायल के अंगूठे पर स्याही का निशान था। जब उन्होंने ये बात अपने भाई से पूछी तो उन्होंने इसकी जानकारी होने से इनकार किया।

वहीं मृतक कासिम के भाई नदीम ने बताया कि वह पिलखुआ के बझैड़ा गांव के रहने वाले हैं। उनके बड़े भाई कासिम भैंस और बकरियों के व्यापारी थे। 18 जून को साढ़े 11 और 12 बजे के बीच किसी ने फोन कर कासिम को पशु खरीदने के लिए बुलाया था। करीब साढ़े तीन बजे उनके पास पुलिस का फोन आया कि कासिम हिरासत में हैं।

सूचना मिलते ही वह थाने पहुंचे। कई घंटे बाद पुलिस ने बताया कि कासिम अस्पताल में हैं। जब वह अस्पताल पहुंचे तो कासिम की मौत हो चुकी थी। उनके शरीर पर बुरी तरह पीटने के निशान थे। कासिम को क्या हुआ पूछने पर पुलिस ने बताया कि सड़क हादसे में बाइक की टक्कर से घायल होने के बाद उनकी मौत हो गई।

पीड़ित परिवार ने केंद्र सरकार से गुहार लगाई है कि गोकशी के झूठे आरोपों में विशेष समुदाय के लोगों की हत्याओं पर अंकुश लगाया जाए, ताकि देश में लोकतंत्र बना रहे।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles