naga sadhu 620x400

“देहरादून में एक मुसलमान लड़का नागा साधु को बुरी तरह पीट रहा है। जब लोगों ने आपत्ति की तो वो पुलिस से बचने के लिए अपनी बहन से जान बूझ कर छेड़खानी का आरोप लगवा रहा है।”

उपरोक्त लाइन के साथ एक फर्जी वीडियो सोशल मीडिया पर बड़े पैमाने पर वायरल हो रहा है। जिसमे दावा किया गया कि इसमें दिख रहा शख्स नागा साधु ही है और उसे कुछ मुस्लिम युवा पीट रहे है। हालांकि देहरादून पुलिस ने बताया कि ये दावे एकदम झूठे हैं। पुलिस ने बताया कि जिन लोगों ने यह विडियो सोशल मीडिया पर फैलाया है उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

देहरादून के एसएसपी ने ट्वीट कर कहा, “सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति जिसे नागा साधु बताते हुए कुछ लोगों द्वारा पीटने का एक वीडियो वायरल किया जा रहा है। उक्त संबंध में ज्ञात हो कि वह व्यक्ति एक बहुरूपिया है, जिसके विरुद्ध नशे की हालत में छेड़छाड़ की एक घटना में संलिप्त होने की शिकायत पर कानूनी कार्यवाही की गयी है।”

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

एसएसपी ने वायरल वीडियो के साथ शेयर की जा रही बात को गलत बताते हुए कहा कि, “24 अगस्त 2018 को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक साधू वेशधारी व्यक्ति कुछ लोगों द्वारा पिटते हुए दिख रहा है। इस वीडियो को लेकर कई लोगों द्वारा भ्रामक संदेश भी प्रचारित किए गए। जबकि वास्तविकता यह है कि वीडियो में साधु के रूप में जो व्यक्ति दिख रहा है, उसका नाम सुशील नाथ है। वह हरियाणा के यमुनानगर का निवासी है। वह एक सपेरा है। उसकी पत्नी और छह बच्चे भी हैं। वह नशे का आदी है और वेश बदलकर भीख मांगता रहता है।”

उन्होने कहा, ”24 अगस्त को वह पटेलनगर क्षेत्र के एक घर में घुस एक महिला के साथ आपत्तिजनक हरकत कर रहा था। इसके बाद युवती के भाई और स्थानीय लोगों ने मिलकर उसकी पिटाई कर दी। बाद में उसे पटेलनगर थाना के हवाले कर दिया गया। उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 354 बी, 504, 452, 376 और 511 के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।”

बता दें कि इस विडियो को ऐक्टर कोइना मित्रा, माइ नेशन के एडिटर अभिजीत मजूमदार, लेखक शेफाली वैद्य और कई ट्विटर हैंडल्स से पोस्ट किया गया है। शिखा नाम के यूजरनेम से पोस्ट किए गए इस विडियो को @imamofpeace ट्विटर हैंडल ने यह लिखते हुए शेयर किया कि भारत में इस्लामी चरमपंथियों ने गरीब और बूढ़े भिखारी की पिटाई की। आगे लिखा गया है, ‘मेरी वास्तविक इच्छा है कि इन इस्लामी अपराधियों को जल्द गिरफ्तार किया जाए।’ इस ट्वीट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तक को टैग किया गया।

Loading...