ABVP कार्यकर्ताओं द्वारा पीटे जाने के बाद से लापता हुए नजीब अहमद को 6 महीने के वक्त गुजर चूका हैं. लेकिन दिल्ली पुलिस अब तक नजीब के बारें में कोई सुराग नहीं लगा पाई हैं. ऐसे में अब दिल्ली पुलिस नजीब के रिश्तें ISIS से रिश्तें साबित करने में लगी हुई हैं.

दिल्ली पुलिस ने दावा किया कि नजीब अहमद गूगल और यूटूब पर आतंकी संगठन ISIS के बारे में सर्च करता था. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने नजीब अहमद के कमरे से लैपटॉप बरामद किया था. गूगल और यूट्यूब के ब्राउजिंग हिस्ट्री से पता चला कि वह आईएसआईएस से संबंधित जानकारियां सर्च किया करता था. आईएस से संबंधित कई वीडियो उसने यूट्यूब पर देखे थे. वह जानना चाहता था कि कैसे आतंकी संगठन आईएस को ज्वाइन किया जाता है.

दिल्ली पुलिस ने यह भी दावा किया है कि 14 अक्टूबर की रात नजीब अहमद अपने कमरे में एक आईएसआईएस नेता स्पीच सुन रहा था. उसी वक्त ABVP के सदस्यों ने उसका दरवाजा खटखटाया था. उसके अगले दिन ही नजीब जेएनयू से लापता हो गया था. उसी दिन कैंपस में लगे सीसीटीवी फुटेज में नजीब एक ऑटो रिक्शा से कहीं बाहर जाता दिखाई देता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दिल्ली पुलिस ने इससे संबंधित एक रिपोर्ट हाईकोर्ट को सौंपी है. केस की पड़ताल में लगी पुलिस अब इंटेलिजेंस के साथ मिलकर उसके रैडिकल गुट से जुड़ने की जांच कर रही है.

Loading...