12 साल बाद रिहा हुआ फहीम अंसारी, बोला – ‘करकरे ने बताया था मैं बेगुनाह हूं’

11:39 am Published by:-Hindi News

सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर पर आतंकी हमले के आरोप में 12 साल से जेल में बंद मुंबई का फहीम अंसारी की आखिरकार मंगलवार को रिहाई हो गई। बरेली सेंट्रल जेल से उन्हे रिहा किया गया।

49 वर्षीय फहीम अंसारी ने रिहा होने के बाद कहा, ‘‘अपनी रिहाई के बाद मैं 2 लोगों से मिलना चाहता था, लेकिन अब वे इस दुनिया में नहीं हैं। मुझे इसका हमेशा अफसोस रहेगा।’’ बता दें कि फहीम अंसारी पर 26/11 मुंबई आतंकी हमले में मदद करने के आरोप लगे थे, जिसमें उसे 9 साल पहले बरी कर दिया गया था। हालांकि, उसे दूसरे मामले में काफी समय जेल में गुजारना पड़ा।

बचाव पक्ष के अधिवक्ता मोहम्मद जमीर रिजवी ने बताया कि सोमवार को फहीम पर लगाए जुर्माने की रकम कोर्ट में जमा करा दी गई थी। मंगलवार को रिहाई का आदेश बरेली सेंट्रल जेल पहुंच गया। इसके बाद उसे रिहा कर दिया गया।

karka

रिहाई के बाद जमीयत-ए-उलेमा महाराष्ट्र के ऑफिस पहुंचे फहीम ने कहा, ‘‘जेल से रिहा होने के बाद मैं 2 लोगों से मिलना चाहता था। इनमें एक वकील शाहिद आजमी थे, जिन्होंने 26/11 केस में मेरा बचाव किया। वहीं, दूसरे एटीएस के चीफ हेमंत करकरे थे, जिन्होंने अधिकारियों को बताया था कि मैं बेगुनाह हूं। दुख इस बात का है कि दोनों आतंकियों की गोलियों का शिकार हो गए।’’

अंसारी पर फर्जी पाकिस्तानी पासपोर्ट, फर्जी भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस, मुंबई के कुछ नक्शे व एक पिस्टल रखने के आरोप में केस दर्ज किया गया था। रामपुर की एक अदालत ने पिछले हफ्ते सुनवाई के दौरान अंसारी को फर्जी दस्तावेज रखने का दोषी पाया, लेकिन उसके खिलाफ सरकार के खिलाफ बगावत करने के सबूत नहीं मिले। ऐसे में उसे 10 साल की सजा सुनाई गई, लेकिन बुधवार (6 नवंबर) को उसे रिहा कर दिया गया, क्योंकि वह पहले ही जेल में 11 साल काट चुका था।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें