नई दिल्ली | देश में सबसे बड़ा मुद्दा बन चुकी गाय को लेकर पूर्व आईपीएस संजीव भट्ट ने संघ पर निशाना साधा है. उन्होंने इसके लिए संघ को जिम्मेदार ठहराते हुए एक विवादित ट्वीट किया. जिसके बाद उनको कई लोगो के गुस्से का कोपभाजन भी बनना पड़ा. दरअसल संघ पर निशाना साधने के चक्कर में संजीव गाय को कामसूत्र के साथ जोड़ बैठे जो कुछ लोगो को पसंद नही आया.

संजीव ने ट्वीट करते हुए लिखा,’ अभी अभी सुना है कि मनुस्मृति की तरह संघी कामसूत्र का भी पवित्र वर्जन ला रहे हैं वे लोग इसे काउमसूत्र कहेंगे.’ इस तरह गाय को सीधे सीधे कामसूत्र के साथ जोड़ने पर कुछ लोगो ने उन्हें खूब खरी खरी सुनाई. एक यूजर ने संजीव की तुलना केजरीवाल से करते हुए कहा की तुम अपनी बकवास इसी तरह जारी रखो, इससे तुम केजरीवाल को टक्कर दे रहे हो.

वही एक अन्य यूजर ने लिखा की पता नही ऐसे सनकी लोग हमारे महान देश के साथ क्या करना चाहते है. हालाँकि कुछ लोग संजीव के समर्थन में भी उतर आये. एक यूजर ने संघ पर प्रहार करते हुए लिखा की सर आप किस दुनिया में हो, इन लोगो ने पहले ही काऊमसुत्रा तैयार कर लिया है. बताते चले की संजीव भट्ट पहले भी बीजेपी, आरएसएस और मोदी सरकार के खिलाफ इस तरह के ट्वीट कर चुके है.

मालूम हो की संजीव भट्ट 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी रहे है. लेकिन अनुशासनहीनता की वजह से उन्हें आईपीएस के पद से बर्खास्त कर दिया गया था. संजीव 2002 में हुए दंगो के दौरान गुजरात में ही पोस्टेड थे. उस दौरान उन्होंने अपनी रिपोर्ट में दंगो को रोकने के लिए राज्य सरकार की भूमिका पर सवाल उठाया था. यह तो मालूम ही की उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी थे.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें








Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें