सलाफी प्रचारक जाकिर नाईक के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय गैर जमानती वॉरंट जारी कर सकता हैं. प्रवर्तन निदेशालय की और से इस बाबत पूरी तैयारी भी कर ली गई हैं.

प्रवर्तन निदेशालय स्पेशल प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्डरिंग एक्ट के तहत जाकिर नाइक को भारत लाने की तैयारी कर रहा है, ऐसे में उनके खिलाफ अब गैर जमानती वॉरंट जारी किया जा सकता है. याद रहे प्रवर्तन निदेशालय नाईक को चार बार समन जारी कर चूका हैं लेकिन जाकिर नाइक हाजिर नहीं हुए.

इसके अलावा ईडी ने पिछले महीने ही नाइक की 18.37 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की थी. पिछले साल नवंबर में ईडी ने एनआईए की एफआईआर को आधार बनाते हुए जाकिर नाइक के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा नाइक पर गैर कानूनी गतिविधियों में शामिल होने के आरोप के साथ ही केंद्र सरकार ने उनके NGO इस्लामिक रिसर्च ाफाउंडेशन को भी िप्रतिबंधित कर दिया था.

Loading...