Saturday, July 24, 2021

 

 

 

मौलाना साद के खिलाफ अब ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: निजामुद्दीन स्थित तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद कंधालवी की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। दरअसल, दिल्ली पुलिस की ओर से मुकदमा दायर करने के बाद अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने मौलाना साद के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस किया है।

अधिकारियों ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि मनी लॉन्ड्रिंग केस जमात से जुड़े ट्रस्टों के साथ-साथ कुछ अन्य लोगों के खिलाफ दायर किए गए हैं। अधिकारियों का कहना है कि ईडी ने दिल्ली पुलिस की एफआईआर के आधार पर एन्फोर्समेंट केस इन्फर्मेशन रिपोर्ट (ECIR) फाइल की है। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग ऐक्ट (PMLA) के तहत एक आपराधिक मुकदमा दायर किया गया है।

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद समेत 7 लोगों पर मामला दर्ज किया था। इन सभी पर महामारी एक्‍ट और आईपीसी की कई धाराओं में केस दर्ज किया गया था। जांच के बाद अब पुलिस ने इस मुकदमें में धारा 304 (गैर इरादतन) हत्‍या भी जोड़ दी है। दोनों गैर जमानती धाराएं हैं।

तबलीगी जमात घटना के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस ने 21 मार्च को निजामुद्दीन मरकज के अधिकारियों से संपर्क किया और उन्हें सरकार के उस आदेश की याद दिलाई जिसमें किसी भी राजनीतिक या धार्मिक आयोजन में 50 से अधिक लोगों के शामिल होने पर रोक लगाई गई थी।

इसमें कहा गया है कि बार-बार के प्रयासों के बावजूद, कार्यक्रम के आयोजकों ने स्वास्थ्य विभाग या किसी अन्य सरकारी एजेंसी को इस संबंध में सूचना नहीं दी और जानबूझकर सरकारी आदेशों की अवहेलना की। इस कार्यक्रम में हजारों लोगों ने भाग लिया था और उनमें से कई लोगों के जरिए कोरोना वायरस का संक्रमण अन्य लोगों तक फैला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles