Sunday, August 1, 2021

 

 

 

विवादित बयान पर EC का आदेश – अनुराग ठाकुर-प्रवेश वर्मा को स्टार प्रचारक लिस्ट से बाहर करे बीजेपी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने बुधवार को केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और सांसद प्रवेश वर्मा को भाजपा की स्टार प्रचारक लिस्ट से बाहर करने का निर्देश दिया है। दोनों नेताओं पर चुनावी रैली के दौरान भड़काऊ और विवादित बयान देने का आरोप है। हालांकि, दोनों नेता अभी भी दिल्ली में चुनाव प्रचार कर सकते हैं।

बता दें कि दिल्ली की रिठाला सीट पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के साथ चुनावी सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने ‘देश के गद्दारों को गो’ली मारने’ ने नारे लगवाए ठाकुर ने कहा था, ‘देश के गद्दारो को’, इसके जवाब में सभा में मौजूद बीजेपी कार्यकर्ता चिल्लाते हैं, ‘गोली मारो…’ इसके बाद वह कहते हैं कि नारा इतनी जोर से लगाएं कि गिरिराज जी को सुनाई दे। इस पर वह फिर से नारा दोहराते हैं और भीड़ फिर गोली मारने के लिए कहती है।

वहीं पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने नागरिकता संसोधन कानून (CAA) के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में पिछले 40 से ज्यादा से ज्यादा दिनों से चल रहे विरोध प्रदर्शन को लेकर कहा था, ‘वहां (शाहीन बाग में) लाखों लोग जमा होते हैं… दिल्ली के लोगों को सोचना होगा, और फैसला करना होगा… वे आपके घरों में घुसेंगे, आपकी बहन-बेटियों के साथ बला’त्कार करेंगे, उन्हें कत्ल कर देंगे… आज ही वक्त है, कल मोदी जी और अमित शाह आपको बचाने नहीं आ पाएंगे।’

दिल्ली की मॉडल टाउन विधानसभा से भाजपा के प्रत्याशी कपिल मिश्रा पर चुनाव आयोग पहले ही 48 घंटे का बैन लगा चुका है। मिश्रा पर यह बैन लगने की वजह उनके द्वारा किया गया एक ट्वीट है। ट्वीट में उन्होंने कहा था कि 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर भारत और पाकिस्तान के बीच मुकाबला होगा। आयोग ने इस पर कपिल को नोटिस भेजा था और इसके बाद उन पर प्रतिबंध लगाया था।

केजरीवाल को बताया था आतंकी-नक्सली

बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तुलना आतंकी और नक्सली से की थी. मादीपुर में एक जनसभा के दौरान प्रवेश वर्मा ने कहा, ‘…केजरीवाल जैसे नटवरलाल…केजरीवाल जैसे आतंकवादी देश में छुपे बैठे हैं। हमें तो सोचने पर मजबूर होना पड़ता है हम कश्मीर में पाकिस्तानी आतंकवादियों से लड़ें या फिर केजरीवाल जैसे आतंकवादियों से इस देश में लड़ें।’

चुनाव आयोग की इस कार्रवाई का क्या मतलब है?

दरअसल चुनाव के दौरान एक स्टार प्रचारक का पूरा खर्चा पार्टी उठाती है। लेकिन अब स्टार प्रचारक लिस्ट से बाहर होने पर प्रवेश वर्मा और अनुराग ठाकुर की गिनती समान्य कार्यकर्ता के रूप में की जाएगी। पार्टी की ओर से प्रचार के दौरान दिया गया वाहन दोनों नेताओं से वापस ले लिया जाएगा। अगर वह कही चुनाव प्रचार करते हैं तो उनका पूरा खर्चा उस क्षेत्र से उम्मीदवार को ही उठाना होगा। मतलब ये कि दोनों नेता अब सामान्य कार्यकर्ता के रूप में ही चुनाव प्रचार कर सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles