Monday, October 18, 2021

 

 

 

चुनाव आयोग ने गुजरात के बाद अब हिमाचल में भी दिया वीपैट के इस्तेमाल का निर्देश

- Advertisement -
- Advertisement -

गुजरात के साथ ही हिमाचल प्रदेश के चुनाव में भी ईवीएम मशीनों के साथ वीपैट का इस्तेमाल होगा. निर्वाचन आयोग ने इस सबंध  में हिमाचल प्रदेश और गुजरात के मुख्य निर्वाचन अधिकारियों (मुख्य कार्यकारी अधिकारियों) को विस्तृत निर्देश भेजे हैं.

इन आदेशों में सभी मतदान केंद्रों पर वीवीपैट मशीनों के उपयोग को अनिवार्य करार दिया गया. साथ ही कहा गया कि सभी मतदान केंद्रों पर मतदाता सत्यापन कागज ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) मशीनों के उपयोग के अलावा (पॉयलट आधार पर) प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में रैंडम आधार पर चुने गए मतदान केंद्रों पर पेपर स्लिप का सत्यापन करना अनिवार्य होगा.

सीईओ को भेजे पत्र में कहा गया, “संबंधित रिटर्निग अधिकारी द्वारा उम्मीदवारों या उनके प्रतिनिधियों और चुनाव आयोग द्वारा उस निर्वाचन क्षेत्र के लिए नियुक्त सामान्य पर्यवेक्षक की मौजूदगी में रैंडम आधार पर ड्रॉ द्वारा किसी एक मतदान केंद्र का चयन किया जाएगा.”

चुनाव आयोग के निर्देश में कहा गया है कि वीवीपीएटी पेपर की ऑडिट ‘वीवीपैट गिनती बूथ’ में की जाएगी, जिसे मतगणना हॉल के अंदर विशेष रूप से तैयार किया जाएगा, जहां वीवीपैट स्लिप तक अनाधिकृत व्यक्ति की पहुंच नहीं होगी.

इसमें कहा गया है कि रिटर्निग ऑफिसर को वीवीपैट पेपर स्लिप की गिनती का मतगणना केंद्र पर ‘व्यक्तिगत रूप से पर्यवेक्षण’ करना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles