chan

chan

सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान एलओसी के पार जाने के चलते सेना के कोर्ट मार्शल के तहत जवान चंदू बाबूलाल चव्हाण को दोषी पाया गया है. सेना की अदालत ने चंदू को तीन महीने कैद की सजा सुनाई है. साथ ही दो साल की पेंशन में भी कटौती की गई है.

ध्यान रहे पिछले साल चंदू ने सर्जिकल स्ट्राइक के दिन 29 सितम्बर को एलओसी पार कर पाकिस्तान में प्रवेश किया था. बाद में 21 जनवरी को पाकिस्तान ने उसे भारत को सौंप दिया था. शुरूआत में माना जा रहा था कि कार्रवाई के दौरान वह गलती से एलओसी पार कर गया था.

लेकिन अब जांच में खुलासा हुआ कि वह अपने अफसरों से नाराज होकर पाकिस्तान चला गया था. 4 महीने पाक की कैद में रहकर प्रताड़नाएं झेल चुके चंदू का भारत आने के बाद कोर्ट मार्शल किया गया.

हालांकि सेना की अदालत द्वारा सुनाई गई सजा पर फिलहाल अधिकारियों की मंजूरी अभी बाकी है. 37 राष्ट्रीय राइफल्स में तैनात चंदू जनरल कोर्ट मार्शल द्वारा सुनाई गई सज़ा के खिलाड़ अपील कर सकता है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?