Friday, September 17, 2021

 

 

 

हिजबूल के आतंकियों के साथ पकड़ा गया DSP दविंदर सिंह, AK-47 और ग्रिनेड बरामद

- Advertisement -
- Advertisement -

श्रीनगर : अपनी बहादुरी के लिए राष्‍ट्रपति मेडल से सम्‍मानित जम्‍मू कश्‍मीर पुलिस के DSP दविंदर सिंह को शनिवार को दो हिजबूल के आतंकियों के साथ श्रीनगर-जम्‍मू हाईवे पर एक गाड़ी में सफर करते वक्‍त पकड़ा गया। दविंदर सिंह का कनेक्शन साल 2001 में हुए संसद हमले (Parliament attack) के दोषी आतंकी अफजल गुरु से भी था।

जानकारी के अनुसार, दविंदर सिंह को कुलगाम जिले के वनपोह में हिजबुल मुजाहि‍दीन के आतंकी नवीद बाबू के साथ पकड़ा गया।  वहीं दूसरे आतंकी की पहचान अल्ताफ के तौर पर हुई है। DSP के घर से छापेमारी के दौरान दो AK-47 राइफल्स और ग्रिनेड मिले हैं। DSP दविंदर सिंह इन दिनों श्रीनगर एयरपोर्ट पर तैनात थे।

दविंदर सिंह को पिछले वर्ष 15 अगस्‍त को राष्‍ट्रपति पुलिस मेडल से सम्‍मानित किया गया था। दविंदर सिंह और नवीद बाबू की गिरफ्तारी और पूछताछ के बाद पुलिस ने श्रीनगर और दक्षिण कश्‍मीर में कई जगहों पर छापे मारे और भारी मात्रा में हथियार और गोलाबारूद बरामद किया जिसे डीसीपी व अन्‍य आतंकियों ने छुपा रखा था।

श्रीनगर के बादामी बाग छावनी इलाके में स्थित दविंदर सिंह के घर से पुलिस ने एक एके-47 राइफल और दो पिस्‍तौल बरामद किया। नवीद बाबू के कबूलनामे के आधर पर एक अन्‍य एके राइफल और पिस्‍तौल बरामद किए गए। सूत्रों ने कहा कि दविंदर सिंह शनिवार को ड्यूटी से गैरहाजिर था और उसने रविवार से चार दिन की छुट्टी के लिए आवेदन दे रखा था।

अफजल गुरु ने लिया था संसद हमले के बाद नाम 

अफजल गुरु उन दिनों दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद था। उस वक्त अपने वकील सुशील कुमार को अफजल ने चिट्ठी लिखी थी।  इसमें डीएसपी दविंदर सिंह का भी जिक्र था। उन दिनों दविंदर जम्मू कश्मीर पुलिस की स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (SOG) में थे। अफजल गुरु के मुताबिक संसद हमले से पहले दविंदर ने उन्हें मोहम्मद नाम के शख्स को दिल्ली में किराए पर घर और कार खरीद कर देने को कहा था। बता दें कि मोहम्मद भी संसद पर हमले में शामिल था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles