janarstory_647_111616020638_120716032515

बंगलौर | कर्नाटक बीजेपी के दिग्गज नेता और खनन माफिया जनार्धन रेड्डी पर एक ड्राईवर ने संगीन आरोप लगाए है. एक प्रशासनिक अधिकारी के ड्राईवर ने जनार्धन रेड्डी पर 100 करोड़ रूपए को सफ़ेद करने का आरोप लगा आत्महत्या कर ली. अपने सुसाइड नोट में ड्राईवर ने बताया की इस काम में उनके अफसर ने जनार्धन रेड्डी की मदद की. फ़िलहाल पुलिस ने ड्राईवर की डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज जांच शुरू कर दी है.

कर्नाटक के एक प्रशासनिक अधिकारी के ड्राईवर केसी रमेश ने बुधवार को एक सुसाइड नोट लिखकर आत्महत्या कर ली. रमेश ने सुसाइड नोट में लिखा की जनार्धन रेड्डी ने करीब 100 करोड़ रूपए सफ़ेद कराया है. इसमें उनके अधिकारी ने जनार्धन की मदद की है. इसके एवज में अधिकारी को 20 फीसदी कमीशन मिला है. चूँकि मुझे इसकी जानकारी थी तो मुझे मानसिक तौर पर प्रताड़ित किया गया.

रमेश ने आगे बताया की जनार्धन ने यह पैसा अपनी बेटी की शादी से पहले सफ़ेद कराया. यहाँ तक की 25 करोड़ रूपए ताज होटल के जरिये सफ़ेद किया गया. जब मुझे इस बात का पता चला तो मुझे जान से मारने की भी धमकिया मिली. 100 करोड़ रूपए को दो कारो के जरिये एक जगह पर भेजा गया वहां से जनार्धन को 100 और 50 के वैध नोट मिले.

मालूम हो की जनार्धन रेड्डी बीजेपी के नेता है और कुछ दिन पहले अपनी बेटी की शादी की वजह से चर्चा में आये थे. इस शादी में जनार्धन रेड्डी ने पानी की तरह पैसा बहाया था. जानकारों का मानना है की जनार्धन ने इस शादी में 500 करोड़ रूपए खर्च किये. नोट बंदी के दौर पर अगर किसी शादी में इतने पैसे खर्च हो जाये तो उसका अपने आप , लाइम लाइट में आना स्वाभाविक है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें