रायपुर | छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ रमण सिंह ने गौहत्या करने वालो को कडा सन्देश देते हुए कहा है की अगर उनके राज्य में कोई गौहत्या करेगा तो उसको फांसी पर लटका देंगे. छत्तीसगढ़ में पिछले 15 साल से मुख्यमंत्री रमन सिंह की छवि एक साफ़ सुथरे राजनेता की रही है. लेकिन उनके जैसे नेता को इस तरह का बयान इसलिए शोभा नही देता क्योकि वे एक संवैधानिक पद पर है और बिना कानून बने वो किसी को भी फांसी पर लटकाने की बात नही कह सकते.

रायपुर में हुए एक कार्यक्रम में पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए रमन सिंह ने ये बाते कही. जब उनसे गुजरात विधानसभा द्वारा पारित गौहत्या संसोधन कानून पर पुछा गया की क्या छत्तीसगढ़ में भी वो इसी तरह का कानून लायेंगे तो उन्होंने कहा ,’ छत्तीसगढ़ में कहां गो वध हो रहा है? पिछले 15 सालों में ऐसा कोई मामला सामने आया है? किसी के द्वारा गोहत्या की बात सामने आई है? अगर ऐसा होगा तो हम उन्हें लटका देंगे.’

आपको बताते चले की देश के कुछ राज्यों में गौहत्या और गौमांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगा हुआ है जबकि कुछ राज्यों में खुले आम गौमांस बेचा जाता है. उत्तर पूर्व के कुछ राज्य है जहाँ गौहत्या अपराध की श्रेणी में नही आता. फ़िलहाल के नतीजो के बाद उत्तर पूर्व के कई राज्यों में बीजेपी की सरकार आ चुकी है. इसके बावजूद वहां गौहत्या पर प्रतिबंध नही लगाया गया है.

इसके अलावा केरल बीजेपी के एक नेता भी राज्य में गौमांस की बिक्री पर प्रतिबंध लगाने का विरोध कर चुके है. बीजेपी के इसी दोहरे मापदंड पर चुटकी लेते हुए AIMIM प्रमुख असुदुद्दीन ओवैसी ने कहा की गाय को माता मानने वाली बीजेपी के लिए गाय उत्तर प्रदेश में मम्मी है तो उत्तर पूर्व के राज्यों में यमी है. ओवैसी की यह प्रतिक्रिया गुजरात विधानसभा द्वारा गौहत्या कानून पास करने के बाद आई है. इस कानून के तहत अब गौहत्या करने वाले को 10 साल से उम्र कैद तक की सजा दी जा सकेगी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?