Wednesday, June 16, 2021

 

 

 

डॉ. नौहेरा शेख ने की उड़ी शहीदों के परिजनों की आर्थिक मदद, बच्चों की शिक्षा का भी उठाया जिम्मा

- Advertisement -
- Advertisement -

nohera

नई दिल्ली: मशहूर हीरा ग्रुप की फाउंडर और सीईओ डॉ. नौहेरा शेख ने ऊड़ी हमले में शहीद हुए भारतीय सैनिकों के परिजनों की और मदद का हाथ बढ़ाते हुए आर्थिक मदद दी हैं. नौहेरा शेख की और से सभी शहीदों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की आर्थिक मदद प्रदान की.

साथ ही नौहेरा शेख की और से शहीदों की संतानों की शिक्षा की तालीम का जिम्मा भी उठाया गया हैं. उन्होंने शहीदों के बच्चों की शेक्षणिक मदद के लिए 15 हजार रुपए प्रति माह की मदद भी दी हैं. डॉ. नौहेरा शेख हीरा ग्रुप की फाउंडर और सीईओ हैं.

डॉ नोहेरा शेख हीरा ग्रुप की सीईओ और फाउंडर है, हीरा ग्रुप 18 विभिन्न कम्पनियो को संचालित करती है जैसे हीरा गोल्ड, हीरा प्योर ड्रॉप्स, हीरा इंटरनेशनल स्कूल , हीरा गोल्ड एक्सपोर्ट घाना लिमिटेड ,हीरा ज्वैलरी, हीरा इलेक्ट्रॉनिक्स, हीरा ग्रेनाइट, हीरा फ़िन कैपिटल, हीरा ट्रेवल्स, हीरा एस्टेट, हीरा इलेक्ट्रॉनिक्स इत्यादि। इसके अलावा उनकी कंपनी हज, उमराह के लिए भी सेवाए प्रदान करती हैं.

हाल ही में उनकी “हीरा फूडेक्स यू ऐ इ ” को संयुक्त अरब अमीरात में बेस्ट न्यूकमर श्रेणी में अवार्ड मिला है. यह अवार्ड सातवे गल्फ फ़ूड अवार्ड के अंतर्गत दिया गया. हीरा फूडेक्स भी इन्ही 18 कम्पनियो में से एक है जिसको दुबई में बेस्ट न्यूकमर का अवार्ड मिला है.

डॉ नोहेरा शेख अन्य चैरिटेबल कार्य भी करती है. असल में डॉ साहिब ने अपने चैरिटेबल कामो को सपोर्ट करने के लिए व्यवसाय में उतरने का मन बनाया था और अल्लाह के फज़ल, इनकी मेहनत और लगन ने इन्ह 20 कामयाब कम्पनियो का मालिक बना दिया.

डॉ नोहेरा शेख ने 19 वर्ष की आयु में 6 लड़कियों के साथ मदरसा शुरू किया था जिसमे वो कुरान और हदीस की शिक्षा देती थी. आज उनके मदरसे में 600 से अधिक बलड़कियां शिक्षा ले रही हैं जिनमे से कई बच्चियां फीस का इन्तिजाम भी नही कर पाती हैं. जिनका खर्च स्वयं नोहेरा द्वारा उठाया जाता हैं.

डॉ नोहेरा शेख अब तक 20 से अधिक अवार्ड पा चुकी हैं, इसके अलावा वो कई NGO चलाती हैं. और वे महिलाओं के हितों में आवाज उठाने वाले कई NGO से भी जुडी हुई हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles