लगातार दुसरे दिन गौ रक्षकों पर निशाना साधते हुए प्रधानमन्त्री मोदी ने कहा की दलितों पर हमला ना करें अगर करना ही है तो मुझ पर करें, पीटीआई के मुताबिक हैदराबाद में अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने कहा, “यदि हमला करना है तो मुझ पर करो, दलितों पर नहीं, यदि गोली मारनी है तो मुझे मारें.”

आगे बोलते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा की दलित तथा अन्य समुदायों की सुरक्षा करना हमारी ज़िम्मेदारी है तथा दलितों का राजनीतिकरण बंद हो जाना चाहिए. इससे पहले लगातार दूसरे दिन ‘गौरक्षकों’ पर निशाना साधते हुए उन्होंने मेडक में कहा था कि लोग फ़र्ज़ी गौरक्षकों से सावधान रहे हैं.

शनिवार को मोदी ने कहा था की 80 फीसदी गौरक्षक गोरखधंधों में लिप्त हैं जिसे लेकर हलकी ही सही लेकर हिंदूवादी संगठनों के स्वर उठने शुरू हो गये है सबसे पहले शंकराचार्य ने इस बयान का विरोध किया.

उन्होंने कहा था, “वो हमारी गायों की परवाह नहीं करते हैं. मैं राज्य सरकारों से अनुरोध करता हूं कि वो फर्ज़ी गोरक्षकों की लिस्ट तैयार करें और उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई करें.”पिछले महीने गुजरात के उना में चमड़ा उतारने का काम करने वाले दलितों की पिटाई से गौरक्षकों की गतिविधियों पर सवाल उठ रहे हैं.

 


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें