Tuesday, January 25, 2022

तबरेज अंसारी केस: धारा-302 हटाने पर डॉक्टरों के खड़े किए सवाल

- Advertisement -

हैदराबाद: झारखंड  पुलिस ने लगभग दो महीने पहले सरायकेला में हुए तबरेज अंसारी  के मॉब लींचिग मामले में सभी 11 आरोपियों पर से हत्या का चार्ज हटा दिया गया है। पुलिस का कहना है कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक इसमें हत्या का मामला नहीं बनता था। इसलिए गैर इरादतन हत्या का मामला बनाया गया।

हालांकि अब अंसारी का इलाज करने वाले डॉक्टरों ने मामले में मर्डर की धारा हटाए जाने पर सवाल खड़े किए हैं। डॉक्टरों का कहना है कि अंसारी की हत्या हुई थी, हमारे निष्कर्षों को गलत तरीके से पेश किया गया।

टाइम्स नाउ की खबर के मुताबिक, डॉक्टरों ने तबरेज अंसारी की हत्या की पुष्टि की और कहा कि पुलिस ने आरोपियों को कानून के हाथों से बचाने के लिए मामले को गलत तरीके से पेश किया। डॉक्टरों का कहना है- हमारे निष्कर्षों का गलत अर्थ निकाला गया है।

doctor

दुसरी और एसपी कार्तिक का कहना है कि पहली पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट पर शक होने पर दूसरे मेडिकल बोर्ड से ओपिनियन मांगा गया। लेकिन दूसरे बोर्ड ने भी पहली रिपोर्ट को ही कन्फर्म किया। इसी आधार पर पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट दायर की है। अब मामला कोर्ट के सामने है। अगर कोर्ट फिर से घटना की जांच का आदेश देता है, तो आगे उस हिसाब से कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि 18 जून को धातकीडीह गांव में भीड़ ने अंसारी को एक पोल से बांध दिया था और उस पर चोरी का आरोप लगाकर मारपीट की थी। उसे कथित तौर पर जय श्री राम और जय हनुमान बोलने के लिए भी मजबूर किया गया था।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles