नई दिल्ली । हाल फ़िलहाल में कई राजनीतिक दलो और संगठनो के नेताओ ने मुस्लिमों को लेकर काफ़ी विवादित बयान दिए है। इनमे सबसे प्रमुख बयान संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत का रहा जिन्होंने एक बार कहा था कि हिंदुस्तान में रहने वाला हर व्यक्ति हिंदू है। उन्ही के पदचिंहो पर चलते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह समेत कई भाजपा नेताओ ने ऐसे ही कई बयान दिए।

सोमवार को उत्तर प्रदेश में भाजपा के एक विधायक ने यहाँ तक कह दिया की 2024 तक भारत पूर्ण रूप से हिंदू राष्ट्र बन जाएगा। अब यह कैसे होगा, यह तो विधायक साहब ही बता सकते है। लेकिन हाल फ़िलहाल में इस तरह के बयानो का चलन काफ़ी चला है। देश को हिंदू मुस्लिम में बाँटने का पूरा प्रयास किया जा रहा है। शायद यह सब वोट बैंक के लिए हो लेकिन इससे देश के हालत और बिगड़ सकते है।

बरहाल मोहन भागवत ने सोमवार को भी एक ऐसा बयान दिया जिसमें कई देशों के लोगों का डीएनए समान बताया गया। रायपुर में एक कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा,’अफगानिस्तान से बर्मा तक और तिब्बत से लेकर श्रीलंका तक जितने लोग रहते हैं सबका डीएनए एक है। यह डीएनए बताता है कि हमारे और उनके पूर्वज एक समान है और यही बात हमें जोड़ती है। हम समान पूर्वजों के वंशज हैं।’

इससे पहले त्रिपुरा में एक कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा था ,’ भारत का उद्देश्य दुनिया को सनमार्ग पर लाना है लेकिन भारत ने अपना काम नहीं किया तो जिम्मेदार कौन होगा क्योंकि सारी दुनिया हिंदू समाज से ही पूछेगी।’ फ़िलहाल भागवत के बयान पर किसी भी विपक्षी दल की तरफ़ से कोई प्रतिक्रिया सामने नही आयी है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?