पिछले साल नवंबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 500 और 1000 के नोटों को बंद करने के ऐतहासिक फैसले के बाद देश में 4,991 करोड़ रूपये की अघोषित आय का खुलासा हुआ है.

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में जानकारी देते हुए बताया कि नोटबंदी के बाद से मार्च 2017 तक आयकर विभाग ने करीब 900 समूहों पर छापे मार कर 900 करोड़ रूपये से अधिक मूल्य की संपति जब्त की. इसके अलावा 7961 करोड़ रूपये की अघोषित आय का पता लगाया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया, इस दौरान 8239 सर्वे किए गए जिनमें 6745 करोड़ रूपये की अघोषित आय का पता चला. उन्होंने कहा, अप्रैल 2017 से अक्तूबर 2017 के दौरान आयकर विभाग ने 275 समूहों पर छापे मारे जिनमें 573 करोड़ रूपये से अधिक मूल्य की संपति जब्त की. साथ ही 7800 करोड़ रूपये की आय घोषित की.

जेटली ने एक सवाल के जवाब में बताया, इसी अवधि में 3188 सर्वे किए जिनमें 2485 करोड़ रूपये की अघोषित आय का पता चला.

ध्यान रहे मोदी सरकार ने  500 और 1000 के नोटों को बंद करने के बाद 2000 और 500 रु के नए नोट जारी कर पुराने 500 और 1000 के नोटों को अमान्य कर दिया था.

Loading...