नई दिल्ली | कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने मोदी सरकार के गायो को आधार कार्ड देने सम्बन्धी फैसले पर निशाना साधा है. इसके अलावा उन्होंने गौरक्षको की बढती गुंडागर्दी पर भी जबरदस्त प्रहार किया है. उन्होंने गौरक्षको को गुंडा बताते हुए पुछा की क्या ये लोग बूढी गायो की सेवा करते है या कोई गौशाला चलाते है?

दिग्विजय सिंह ने मंगलवार को एक के बाद एक ट्वीट कर मोदी सरकार और गौरक्षको पर निशाना साधा. उन्होंने अपने पहले ट्वीट में लिखा,’ यह मोदी जी को क्या हो गया है, अब गायो का भी भी आधार कार्ड बनेगा.’ अपने अगले ट्वीट में आधार कार्ड पर आने वाले खर्चे के बारे में पूछते हुए उन्होंने लिखा,’ अब गाय भैंसों का आधार कॉर्ड बनेगा और उसको बनाने पर कितना ख़र्च आयेगा ? उसका ठेका भी शायद “गौ रक्षकों” को मिलेगा ?’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पिछले कई दिनों से गौरक्षको के निशाने पर रहे मुस्लिम पशुपालको की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा ,’ क्या गायो का आधार कार्ड बनवाने के बाद मुस्लिम पशुपालको की गौरक्षको से सुरक्षा हो पायेगी?’ अपने अगले ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने जम्मू कश्मीर की उस घटना का जिक्र किया जिसमे कथित गौरक्षको ने एक खानाबदोश परिवार के 5 सदस्यों की बेरहमी से पिटाई की जिसमे एक 9 साल की बच्ची भी शामिल थी.

उन्होंने लिखा,’देश में कुछ घूमंतु जातियाँ हैं जो हिंदुओं और मूसलमानों दोनों की हैं, सदियों से पशुओं का व्यापार करती आई हैं. उनके ख़िलाफ़ तथा कथित “गौ रक्षक” जो हिंसक कार्यवाही कर रहे हैं वह गौरक्षा नहीं है जुर्म है. मोदी जी ठीक कहते हैं इनमें से 75 फीसदी गुण्डे हैं.’ दिग्विजय सिंह ने गौरक्षको से सवाल पुछा की क्या तुम बूढ़े और बीमार गौवंशो की सेवा के लिए गौशाला चलाते हो? सेवा करते हो? नही कुछ नही करते.

दिग्विजय सिंह ने गौरक्षको को गुंडा बताते हुए कहा की तुमको केवल गुंडागर्दी करनी है. मोदी भक्तो, गौरक्षा अहिंसक होती है हिंसक नहीं. जरा सोचो और इस देश को मत बांटो.

Loading...