modi987

केंद्र की मोदी सरकार के शासन में भारत उभरती अर्थव्यवस्थाओं में पाकिस्‍तान-बांग्लादेश देशों से भी पिछड़ गया है. सोमवार को विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) ने अपनी सालाना शिखर बैठक शुरू होने से पहले भारत को 62वां स्थान दिया है. जबकि चीन को 26वां और पाकिस्तान को 47वां स्थान दिया है.

इस सूची के अनुसार, लिथुआनिया उभरती अर्थव्यवस्थाओं में शीर्ष पर है. वहीँ नॉर्वे दुनिया की सबसे समावेशी आधुनिक विकसित अर्थव्यवस्था बना हुआ है. विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) ने वर्ष 2018 के इंडेक्स में 103 अर्थव्यवस्थाओं को शामिल किया है.

103 अर्थव्यवस्थाओं को दो हिस्सों में बांटा गया है. पहले हिस्से में 29 विकसित अर्थव्यवस्थाओं तथा दूसरे में 74 उभरती अर्थव्यवस्थाओं को शामिल किया गया है. वर्ष 2018 के इंडेक्स में 103 अर्थव्यवस्थाओं की प्रगति की आकलन तीन निजी स्तंभों- वृद्धि एवं विकास, समावेशन और अंतर पीढ़ी इक्विटी के आधार पर किया गया है.

डब्ल्यूईएफ ने कहा कि इस सूचकांक में रहन सहन का स्तर, पर्यावरण की दृष्टि से टिकाऊपन और भविष्य की पीढ़ियों को और कर्ज के बोझ से संरक्षण आदि पहलुओं को शामिल किया जाता है. विकसित अर्थव्यवस्थाओं में नॉर्वे के बाद आयरलैंड, लग्जमबर्ग, स्विट्जरलैंड और डेनमार्क शीर्ष पांच में शामिल हैं.

ध्यान रहे भारत पिछले साल 79 विकासशील अर्थव्यवस्थाओं में 60वें स्थान पर था, जबकि चीन 15वें और पाकिस्तान 52वें स्थान पर था.