asif

कोई भी शख्स पिछले 50 सालों से देश में रह रहा हो, जिसके पुरखे इस जमीन में दफन हो, अगली नस्ल के लोग उन्ही के सामने भारतीय नागरिक के रूप में अपनी ज़िंदगी व्यतीत कर रहे हो. ऐसे में कोई शख्स हिन्दुस्तानी से पाकिस्तानी हो जाता हैं. ये आश्चर्यचकित करने वाला ही हैं.

दरअसल मुंबई के रहने वाले 51 वर्षीय आसिफ कराड़िया ने हज के लिए पासपोर्ट बनवाना चाहा. लेकिन उन्हें पाकिस्तानी बताकर उनका पासपोर्ट बनाने से मना कर दिया गया. साथ ही उन्हें पाकिस्तान भेजे जाने का खतरा महसूस हो रहा हैं. जबकि उनके पास स्कूल प्रमाण-पत्र, राशन कार्ड, पैन कार्ड, आधार कार्ड, मुंबई के मूल निवासी आदि दस्तावेज मौजूद हैं.

पाकिस्तानी बताने की वजह

दरअसल आसिफ के पिता हिन्दुस्तानी हैं और उनकी शादी पाकिस्तान में हुई थी. पुरानी परम्पराओं के अनुसार, पत्नी के पहले बच्चें का जन्म पत्नी के मायके में होता हैं. ऐसे में आसिफ का जन्म पाकिस्तान में हुआ था. जन्म के बाद से ही आसिफ हिन्दुस्तान में रह रहे हैं. साथ ही उनकी माता को भी भारत की नागरिकता मिल गई थी. आसिफ की शादी हो चुकी है, बेटा-बेटी और नातिन भी है.

आसिफ कहते हैं ‘कुछ भी हो जाए पाकिस्तान नहीं जाऊंगा. मेरा परिवार, बीबी, बच्चे सब यहां हिंदुस्तान में हैं. 49 साल से मैं कभी पाकिस्तान नहीं गया फिर अभी क्यों जाऊं?’ आसिफ की पत्नी शाकिरा आसिफ के मुताबिक ‘उनके ऊपर तो आसमान ही टूट पड़ा है. लेकिन हमने तो हिंदुस्तान का नमक खाया है फिर पाकिस्तानी कैसे हुए?’

पाकिस्तानी होने की बात सामने आने के बाद से ही लॉन्ग टर्म वीजा पर रह रहे आसिफ के पास अब अदालत से ही उम्मीद है. इसलिए परिवार ने अदालत का दरवाजा खटखटाया है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें