मैच फिक्सिंग के आरोप से अदालत द्वारा बरी होने के बावजूद बीसीसीआई पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन को अपमानित क्यों कर रहा हैं ?

22 सितंबर से कानपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू होने वाले देश के ‘500वें टेस्ट मैच’ के मौके पर बीसीसीआई ने एक जश्न का आयोजन किया हैं. इस आयोजन में सभी पूर्व भारतीय कप्तानों को आमंत्रित किया गया हैं. लेकिन इस बार भी मोहम्मद अजहरुद्दीन को आमंत्रित नहीं किया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल बीसीसीआई द्वारा अजहरुद्दीन पर कथित मैच फिक्सिंग में शामिल होने के लिए आजीवन प्रतिबंध लगाने के बाद से ही अधिकारिक कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं करता. जबकि अजहरुद्दीन को अदालत द्वारा इस मामलें में बाइज्जत बरी किया जा चुका है.

ऐसे में अब सवाल उठता है कि क्या बीसीसीआई देश की न्य्यायिक व्यवस्था को चुनोती नहीं दे रहा हैं. अदालत द्वारा बरी किये जाने के बाद भी अजहरुद्दीन को अपमानित करने का क्या मतलब हैं ?

Loading...