Thursday, July 29, 2021

 

 

 

दिल्ली पुलिस कर्मियों का धरना जारी, कमिश्नर की भी बात नहीं सुनी

- Advertisement -
- Advertisement -

दिल्ली में वकीलों द्वारा पुलिसकर्मियों की पिटाई मामला गरमाता ही जा रहा है। मंगलवार को अपने साथियों की पिटाई के विरोध में दिल्ली पुलिस के सैकड़ों कर्मचारियों का ITO स्थित पुलिस मुख्यालय पर धरना जारी है।

लगभग आठ घंटे से जारी इस धरने को खत्म कराने के लिए दोपहर में पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक सामने आए और पुलिसवालों से काम पर लौटने की अपील की।पटनायक ने कहा कि यह पुलिस विभाग के लिए परीक्षा की घड़ी है। ऐसे में सभी को कानून-व्यवस्था बनाए रखते हुए अपना फर्ज निभाना चाहिए।

पटनायक के कहा, ‘पिछले कुछ दिनों से हालात दिल्ली पुलिस के लिए परीक्षा की घड़ी जैसे हैं। वैसे दिल्ली पुलिस हमेशा से चुनौतियों का सामना करती आई है। हम तरह-तरह के हालात को हैंडल करते हैं। पिछले कुछ दिनों में जो घटनाएं हुई हैं, हमारे उत्तरी जिले के अफसरों ने उसे अच्छे तरीके से संभाला। उस दिन जैसे हालात थे, उसके हिसाब से देखें तो उसमें काफी सुधार है।’ यह सुनते ही पुलिसवालों ने जोरदार हंगामा और नारेबाजी शुरू कर दी। पुलिस कमिश्नर को अपना संबोधन कुछ सेकेंड के लिए रोकना भी पड़ा।

वहीं गृह मंत्रालय भी पूरे प्रकरण पर नजर बनाए है। जांच भी चल रही है, जिसका निष्कर्ष कुछ समय में सामने आएगा। गृह सचिव ने इस बारे में गृह मंत्री अमित शाह को डिटेल में जानकारी मुहैया कराई है। वहीं, दिल्ली के डिप्टी-CM मनीष सिसोदिया ने इस पूरे प्रकरण को दुखद करार दिया है।

उधर, बार काउंसिल ऑफ इंडिया ने वकीलों को चेतावनी दी है कि यदि कोई भी वकील हिंसक घटनाओं या तोड़फोड़ में शामिल पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। काउंसिल ने हिंसा में शामिल वकीलों के नाम मंगाए हैं और उन्हें आज ही हड़ताल वापस लेने के लिए कहा है। काउंसिल ने कहा है कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो वह मामले से खुद को पूरी तरह अलग कर लेगी और किसी जांच का भी हिस्सा नहीं बनेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles