dati

25 साल की एक युवती से बलात्कार के आरोप मे घिरे दाती मदन महाराज राजस्थानी के कुकर्मों की पोल पीड़िता ने खोलकर रख दी है। डरी-सहमी पीड़िता ने अब पुलिस से सुरक्षा की मांग की है।

रेप पीड़िता का कहना है कि उसका परिवार खौफ में जी रहा है। उन्हे लगातार धमकियां दी जा रही हैं। पीड़िता ने दिल्ली पुलिस को चिट्ठी भी लिखी है जिसमें उसने अपनी पूरी आपबीती बयान की है।

पीड़िता ने बताया कि चरण सेवा के नाम पर उसके शरीर को नोंचा-खसोटा गया, उसके साथ रेप और कुकर्म किया गया। पीड़िता ने चिट्ठी में जिक्र किया है कि दाती मदनलाल राजस्थानी ने अपने सहयोगी श्रद्धा उर्फ नीतू, अशोक, अर्जुन, नीमा जोशी के साथ मिलकर 9 जनवरी 2016 को दिल्ली स्थित आश्रम श्री शनि तीर्थ, असोला फतेहपुर बेरी में रेप के बाद कुकर्म भी किया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ये सारा वाकया तब हुआ जब उसे ‘चरण सेवा’ के लिए श्रद्धा उर्फ नीतू दाती महाराज के पास ले गई थी। पीड़िता के मुताबिक वह चीखती-चिल्लाती, दर्द से कराहती रही लेकिन दाती महाराज रेप करते रहे।

पीड़िता का आरोप है कि दाती महाराज ने 26, 27, 28, मार्च 2016 को राजस्थान के गुरुकुल, सोजत शहर, जिला पाली में भी उसके साथ दुष्कर्म किया। इस कांड में अनिल और श्रद्धा ने दाती महाराज का भरपूर साथ दिया। अनिल ने तो बाद में दुष्कर्म भी किया। दाती महाराज पीड़िता के जिस्म के हर हिस्से को नोंचता था। वो उसे ‘चरण सेवा’ कहा करता था।

पीड़िता के मुताबिक, श्रद्धा उर्फ नीतू उससे कहती थी,‘इससे तुम्हें मोक्ष प्राप्त होगा। यह भी सेवा ही है। तुम बाबा की हो और बाबा तुम्हारे। तुम कोई नया काम नहीं कर रही हो, सब करते आए हैं। कल हमारी बारी थी, आज तुम्हारी बारी है, कल न जाने किसकी होगी। बाबा समंदर हैं और हम सब उसकी मछलियां हैं। इसे कर्ज समझ कर चुका लो’ पीड़िता ने बताया कि तीन रातों में न जाने उसके साथ कितनी बार रेप किया गया। बाद में उसे भोग चुके दाती मदन महाराज ने कहा,’तुम्हारी सेवा पूरी हुई।’

Loading...