Wednesday, May 18, 2022

दारुल उलूम देवबंद का फतवा – महिला टीवी एंकर्स को स्‍कार्फ पहनना जरूरी

- Advertisement -

अपने विवादित फतवों को लेकर चर्चा में रहने वाले दारूल उलूम देवबंद ने अब नया फतवा जारी किया है। दारूल उलूम ने नए फतवे में कहा है कि महिला टीवी एंकरों को एंकरिंग करने के दौरान स्‍कार्फ बांधना जरूरी है। फतवे में यह भी कहा गया है कि महिला एंकरों को खुले बाल रखने की भी इस्‍लाम इजाजत नहीं देता है।

देवबंद के मुफ्ती अहमद ने मुस्लिम महिलाओं के लिए बयान दिया है कि टीवी पर जो मुस्लिम महिलाएं एंकरिंग या रिपोर्टिंग कर रही हैं, उन्हें स्‍कार्फ बांधकर काम करना चाहिए। इससे उनके बाल खुले नहीं रहेंगे, बेहतर होगा कि वे बुर्के का इस्‍तेमाल करें।

देवबंद ने अपने फतवे में कहा है कि शरीयत ने सभी औरत और मर्दों को इजाजत दी है कि वह कोई भी जायज रोजगार कर सकते हैं। घर की जरूरत पूरी करने के लिए अपने अहले खाना की जरूरत पूरी करने के लिए सब तरह के काम कर सकते हैं। इसमें कोई हर्ज नहीं है। इसमें कहा गया है कि टीवी पर एंकरिंग करने के लिए बेहतर तरीका शरीयत ने बताया है।

deoband 1489737872

इससे पहले दुल्हन की मुंह दिखाई और दूल्हे की सलामी को लेकर भी एक फतवा जारी किया गया। जिसमे शादी के मौके पर दूल्हे की सलामी के लिए दुल्हन के घर जाना, दुल्हन के पहली बार ससुराल जाने पर उसकी मुंह दिखाई की रस्म, तोहफे दिए जाने, दुल्हन की खीर चटाई और दूल्हे की जूता चुराई रसूम-ए-कबीहा यानी नापसंदीदा अमल बताया गया।

साथ ही दारुल उलूम ने अपने एक महत्वपूर्ण फतवे में किसी भी शादी या अन्य बड़े समारोह में सामूहिक रुप से मर्दों और औरतों के भोजन करने को हराम करार दिया है।

- Advertisement -

Hot Topics

Related Articles