52 वर्षीय डेनमार्क की महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले पांच दोषियों को अदालत ने शुक्रवार को उम्रकैद की सजा सुनाते हुए कहा है कि इनका कृत्य बेहद अमानवीय व बर्बर था।

तीस हजारी अदालत के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश रमेश कुमार ने दोषियों अर्जुन, राजू उर्फ चक्का, मोहम्मद रजा, महेंद्र उर्फ गंजा तथा राजू को आजीवन कारावास की सजा के साथ राजू और राजू चक्का पर 83000 रुपये तथा महेंद्र और रजा पर 93000 जबकि अर्जुन पर 1.03 लाख रुपये का जुर्माना लगाया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इन सभी को आईपीसी की विभिन्न धाराओं के तहत गैंगरेप, डकैती, अपहरण, बंधक बनाकर रखना, आपराधिक धमकी के लिए दोषी ठहराया गया था। मामले के छठे आरोपी श्याम लाल (56) की इस साल फरवरी में मौत हो गई।

Loading...