गुरुवार को भ्रष्टाचार को लेकर भ्रष्टाचार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि भ्रष्टाचार समाप्ति के लिए उठाये गए क़दमों ने अब संस्थागत रूप ले लिया है.

इस दौरान उन्होंने दलालों पर भी निशाना साधा. मोदी ने कहा कि दलाली रोजगार का क्षेत्र बन गया था. ये बिचौलिये नौकरी का वादा करके धन ऐंठने का काम करते थे. अब बिचौलियों को बाहर कर दिया गया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

पीएम मोदी ने कहा, सरकार में दलाल बेरोजगार बन गए हैं. जो दलाल बेरोजगार हो गए हैं, वही आज सबसे ज्यादा हल्ला कर रहे हैं कि रोजगार नहीं है. मोदी ने कहा कि सरकार ने पहले ही तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के सरकारी कर्मचारियों की भर्ती में साक्षात्कार की प्रणाली को समाप्त कर दिया है और इसके कारण बिचौलियों की भूमिका खत्म हो गई है.

नीति आयोग की ओर से आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि भ्रष्टाचार ने संस्थागत रूप ले लिया है. जब तक आप इसके समकक्ष कोई संस्थागत व्यवस्था नहीं करेंगे, आप इसे नहीं रोक सकते हैं. उन्होंने कहा कि अब बिचौलियों को निकाल दिया गया है और ऐसे में ये लोग ही सबसे अधिक बेरोजगारी के बारे में शोर कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि केवल सरकार की पहल से न्यू इंडिया नहीं बन सकता, बदलाव के लिए हर नागरिक को प्रयास करना होगा.

Loading...