cyb1

महाराष्ट्र के पुणे स्थित कॉसमॉस बैंक पर देश का सबसे बड़ा साइबर हमला हुआ है। इस दौरान मुख्य शाखा के सर्वर को हैक कर 94.42 करोड़ रुपये चुरा लिए गए। हैकरों ने हांगकांग और भारत में इस चोरी को अंजाम दिया।

जानकारी के मुताबिक, बीते शनिवार (11 अगस्त) को हैकरों द्वारा 76 करोड़ रुपए ट्रांसफर किए गए, जबकि रविवार (12 अगस्त) को 15 करोड रुपए ट्रांसफर किए गए। इसके अलावा रविवार को ही करीब 2.5 करोड़ रुपए का एक और ट्रांजेक्शन किया गया। बता दें कि 94 करोड़ रुपए की रकम हांगकांग के हैंगसैंग बैंक में ट्रांसफर की गई है।

हैंग सेंग नाम के इस बैंक में एएलएम ट्रेडिंग लिमिटेड के नाम से खाता है जिसमें चोरी की रकम डाली गई। इस कंपनी और पुणे के अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। बैंक की ओर से पुलिस को दी गई सूचना के अनुसार हैकर्स ने कॉसमॉस को-ऑपरेटिव बैंक के मुख्यालय के एटीएम को निशाना बनाया।

200

बैंक के अधिकारियों का कहना है कि हैकर्स ने 80.5 करोड़ रुपए डेबिट कार्ड से, 14849 ट्रांजेक्शन के जरिए और 13.9 करोड़ रुपए स्विफ्ट ट्रांजेक्शन के जरिए विदेशी खातों में ट्रांसफर किए हैं। पुलिस और साइबर क्राइम सेल की अलग-अलग टीमें मामले की जांच में जुट गई हैं।

बैंक अधिकारियों के अनुसार हैकर्स ने मालवेयर अटैक के जरिए घटना को अंजाम दिया है। हैकर्स ने पहले मालवेयर अटैक के जरिए ग्राहकों के डेबिट कार्ड्स का डाटा चुरा लिया। डाटा मिलने के बाद अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया।गौरतलब है कि कॉसमॉस बैंक भारत के पुराने सहकारी बैंकों में से एक है। कॉसमॉस बैंक की स्थापना सन 1906 में हुई थी।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें