अवैध निर्माण कर धार्मिक स्थल के निर्माण को लेकर हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने राज्य सरकार को आदेश देते हुए कहा कि सड़कों के किनारे, गलियों, हाईवे, चौराहों आदि पर अतिक्रमण करके जिन भी धार्मिक स्थल का निर्माण किया गया हैं, उन सभी को तुरंत हटाया जाए।

हाईकोर्ट ने अपने आदेश में कहा कि 1 जनवरी 2011 या उसके बाद अतिक्रमण करके बने सभी तरह के धर्मस्थलों को तुरंत तोड़ा जाए। साथ ही, इससे पहले निर्मित धर्मस्थलों को दूसरी जगह शिफ्ट करने का आदेश दिया है। अदालत ने मुख्य सचिव को आवश्यक कदम उठाने के साथ इसकी रिपोर्ट दो महीने में कोर्ट को देने को कहा हैं

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

कोर्ट ने आदेश में स्पष्ट कहा है कि अगर निर्देश के अनुसार कार्रवाई नहीं हुई तो इसे कोर्ट की अवमानना माना जाएगा।