चंडीगढ़ | साध्वी के साथ हुए रेप मामले में अदालत 25 अगस्त को अपना फैसला सुनाएगी. इस मामले में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम मुख्य आरोपी है. इसलिए किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुरे हरियाणा को छावनी में तब्दील कर दिया गया है. पुरे प्रदेश में धारा 144 लगा दी गयी है जबकि डेरा प्रेमियों के चर्चा घर में हथियार, लाठी, डंडे रखने पर भी रोक लगा दी गयी है. इसके अलावा चंडीगढ़ में कई बड़ी इमारतो को अस्थायी जेल में तब्दील कर दिया गया है.

उधर पंजाब के डीजीपी ने प्रदेश के सभी डीआईजी, आईजी और एसपी को अलर्ट जारी कर दिया है. डीजीपी के अनुसार डेरा से जुड़े लोग पेट्रोल , डीजल, पत्थर और धारधार हथियार जमा कर रहे है. उन्होंने सभी पुलिस अधिकारियो को मामले से निपटने के लिए जरुरी कदम उठाने के निर्देश दिए है. फ़िलहाल पंजाब में सभी जिलो को हाई अलर्ट पर रखा गया है. कुछ ऐसे ही हालात हरियाणा में भी नजर आ रहे है. यहाँ के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) राम निवास ने बताया की पुरे प्रदेश में धारा 144 लगायी गयी है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

राम निवास ने आगे कहा फ़िलहाल प्रदेश की सभी सीमाए सील कर दी गयी है. नाकेबंदी कर सभी गाडियों की चेकिंग की जा रही है. वही जिलो के अन्दर भी गाडियों की आवाजाही पर नजर रखी जा रही है. फ़िलहाल किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पैर मिलिट्री की 75 कंपनिया तैनात की है जबकि और 115 कंपनियों की केंद्र सरकार से मांग की गयी है. हालाँकि राम निवास के कहा की उनके पास पर्याप्त संख्या में पुलिस बल मौजूद है.

उधर पंजाब के डीजीपी हरदीप ढिल्लन ने एक अलर्ट पत्र जारी कर चेताया की डेरा प्रेमी चर्चा घर में धारधार हथियार, पेट्रोल ,डीजल और पत्थर इकठ्ठा कर रहे है. इसलिए सभी अधिकारियो को जरुरी कदम उठाने के निर्देश दे दिए गए है. माना जा रहा है की सुनवाई वाले दिन चंडीगढ़ में करीब 10 लाख डेरा प्रेमी इकठ्ठा हो सकते है. एक पुलिस अधिकारी के अनुसार इतने लोगो को जेल में बंद नही किया जा सकता इसलिए स्टेडियम और बड़ी इमारतो को अस्थायी जेलों में तब्दील किया जा रहा है.

Loading...