Sunday, January 23, 2022

उद्धव ठाकरे के सीएम बनते ही देवेंद्र फडणवीस को कोर्ट का समन

- Advertisement -

मुंबई. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पद से हटते ही कोर्ट की तरफ से एक समन जारी किया गया है। फडणवीस पर चुनावी हलफनामे में अपने खिलाफ दो आपराधिक मुकदमों के बारे में सूचनाएं छिपाने के आरोप है।

नागपुर (सदर) के पुलिस निरीक्षक महेश बंसोड़े ने बताया कि कोर्ट का समन देवेंद्र फडणवीस को दिया जा चुका है। यह समन उन्हें चुनावी हलफनामे में खुद पर चल रहे दो आपराधिक मामलों की जानकारी को छुपाने के संबंध में है। बता दें कि देवेंद्र फडणवीस नागपुर से बीजेपी विधायक हैं।

शहर के वकील सतीश उके ने अदालत में एक याचिका दायर कर फडणवीस के खिलाफ आपराधिक कार्यवाही शुरू करने की मांग की थी। बंबई उच्च न्यायालय ने उनके की याचिका खारिज करने के निचली अदालत के फैसले को बरकरार रखा था। लेकिन, उच्चतम न्यायालय ने एक अक्टूबर को मजिस्ट्रेटी अदालत को उनके द्वारा दी गयी याचिका पर सुनवाई के लिए आगे बढ़ने का निर्देश दिया था।

याचिकाकर्ता की दलील थी कि फडणवीस ने ऐसा कर के जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 125A का उल्लंघन किया है। इस संबंध में लोअर कोर्ट और हाईकोर्ट ने कहा था कि फडणवीस के खिलाफ पहली नजर में कोई मामला नहीं बनता है। याचिकाकर्ता ने कहा था किप्रत्याशी के लिए सभी आपराधिक मामलों की जानकारी देना कानूनी रूप से अनिवार्य है।

इस पर फडणवीस सरकार की तरफ से सफाई दी गई कि, पहला मामला डिफेमेशन का है, जिसमें होईकोर्ट ने सीएम देवेंद्र फडणवीस को राहत दी थी। वहीं दूसरा मामला स्लम प्रॉपर्टी पर टैक्स को लेकर है। ये दोनों ही मामले जनहित में थे इनमें कोई पर्सनल हित में नहीं था। बाद में याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और 1 अक्टूबर को सुप्रीम कोर्ट ने बॉम्बे हाईकोर्ट के आदेश को निरस्त (रद्द) कर दिया और फडणवीस को मामले में सुनवाई का सामना करने का आदेश दिया।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles