nna

हमेशा अपने अकाउंट से भड़काउ ट्वीट करने वाली लोकसभा टीवी की कार्यरत जागृति शुक्ला एक बार फिर विवादों में है।दरअसल, जागृति के आपत्तिजनक ट्वीट के कारण ट्विटर इंडिया ने उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया है।

माना जा रहा है कि जागृति के विवादास्पद ट्वीट के कारण ट्विटर इंडिया ने उनका अकाउंट सस्पेंड कर दिया है। बता दें कि 7 नवंबर को जागृति ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से कश्मीरियों के खिलाफ आपत्तिजनक ट्वीट किया था। उन्होने पेलेट गन से पीड़ितों की पुरानी तस्वीर रीट्वीट की। रीट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘इनपर तो पेलेट गन की जगह असली गोली का इस्तेमाल करना चाहिए था।

Loading...

इससे पहले उन्होने कश्मीर पर ही एक और ट्वीट किया था। उस ट्वीट में लिखा गया था कि ‘कश्मीरी घाटी के सभी लोगों को मार दिया जाए जिससे जनसंख्या में कुछ कमी आएगी और धरती माता का बोझ कम होगा।’ बता दें कि कासगंज हिंसा के दौरान भी जागृति के एक ट्वीट के चलते ट्विटर ने कार्रवाई की थी।  ट्विटर ने जागृति शुक्ला के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया गया था।

तब जागृति शुक्ला ने ट्वीट कर लिखा था, ‘उन्‍होंने हमें ट्रेन में मारा, हमारे विमान लूटे, होटल में हमें बंधक बनाया, हमें कश्‍मीर से भागने पर मजबूर किया और अब गणतंत्र दिवस पर तिरंगा फहराने के लिए मार रहे हैं। सच ये है कि हम डर में रहते हैं, वो नहीं, अब और नहीं। हमेशा घातक हथियार साथ में रखिए। उन्‍हें मार दीजिए, इससे पहले वो हमें मार दें।’

हाल ही में जागृति शुक्ला को केंद्र सरकार के स्वामित्व वाले चैनल लोकसभा टीवी ने अपने यहां बतौर कंसल्टेंट नौकरी पर रखा था।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें