नई दिल्ली | प्रधानमंत्री मोदी की तीन तलाक के मुद्दे का राजनीतिकरण नही करने के बयान पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने मोदी और उनकी पार्टी पर इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया. इसके अलावा मोदी को नसीहत देते हुए कहा की आपको मुस्लिम पति पत्नी के बीच नया वोट बैंक ढूँढने की कोशिश बंद कर देनी चाहिए.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाब नबी आजाद ने शनिवार को मोदी पर जमकर प्रहार किया. उन्होने कहा की मोदी जी कहते है की मुद्दे का राजनीतिकरण मत करो लेकिन खुद वो और उनकी पार्टी इस मुद्दे का राजनीतिकरण कर रही है जबकि देश की अन्य कोई भी पार्टी इस मुद्दे पर बात नही कर रही है. आप एक ऐसी पार्टी और नेता का नाम बताइये जिसने इस मामले में पहल की हो. पहल आपने और आपकी पार्टी ने की है.

गुलाब नबी ने आगे कहा की आपका यह कहना की मुद्दे का राजनीतिकरण न करे, इसका राजनीतिकरण कर रहा है. आप तो राजनीतिकरण के सबसे बड़े चैंपियन है. इसलिए बाकी पार्टी को नसीहत देने से पहले अपनी पार्टी और नेताओ पर नियंत्रण करे. आप खुद, आपकी पार्टी बीजेपी और संघ चुनाव से 24 घंटे पहले तक इस मुद्दे का राजनीतिकरण कर रहे थे.

जबकि हजारो सालो से यह देश और समाज बन रहा है. समय के साथ साथ गलत बातो को हटाया भी गया है. जैसे सती प्रथा को दूर किया गया. ऐसे ही इस्लाम में भी समय के साथ कुछ बदलाव आया है. समाज तीन तलाक को लेकर भी विचार कर रहा है. जो अच्छी है और इस्लाम के अनुरुप है वो रहेगी और बाकी को दूर कर दिया जायेगा. कुरान में तलाक को लेकर एक लम्बी प्रक्रिया है इसलिए जो चलते फिरते तीन तलाक देते है उसको कोई भी मुस्लिम सही नही मानता.

गुलाब नबी ने माना की इस तरह से तलाक देना इस्लाम , कुरान और शरियत के खिलाफ है. बीजेपी पर मुस्लिम पति पत्नी के बीच इस मुद्दे को लेकर नया वोट बैंक बनाने का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा की जब इस पर समाज में चर्चा चल रही है, अदालत में यह मामला विचाराधीन है तो बीजेपी को बेकार में नए वोट बैंक की बनाने की कोशिश नही करनी चाहिए.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें