62065751.cms

62065751.cms

अहमदाबाद । गुजरात विधानसभा चुनावों के लिए हो रहे मतदान के बीच कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी पर आचार संहिता का उलंघन करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस का आरोप है की मोदी ने मतदान के बाद रोड शो किया जो आचार संहिता का उलंघन है। कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर भी निशाना साधते हुए उन पर दोहरा मापदंड अपनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को यह सब नज़र नही आ रहा है।

दरअसल गुरुवार को अहमदाबाद के एक स्कूल में बने बूथ पर प्रधानमंत्री मोदी वोट डालने पहुँचे थे। इस दौरान उन्होंने लाइन में खड़े होकर वोट डाला। वोट डालने के बाद जैसे ही वह बाहर निकले तो वहाँ भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए और उन्होंने मोदी मोदी के नारे लगाने शुरू कर दिए। इस दौरान मोदी अपनी खुली गाड़ी से लोगों का अभिवादन करते हुए वहाँ से निकले। यह बिलकुल एक रोड शो की तरह का नज़रा था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी बात को आधार बनाकर कांग्रेस ने एक प्रेस वार्ता बुलाई और मोदी पर आचार संहिता का उलंघन करने का आरोप लगाया। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा,’ ‘पीएम मोदी की हरकतें यह दर्शाती हैं कि वह प्रजातांत्रिक मूल्यों को तोड़ किसी तरह से गुजरात चुनाव में प्रासंगिक बने रहना चाहते हैं। 22 साल के कुशासन के बाद गुजरात के लोग पीएम को नकार चुके हैं। मोदीजी की डूबती नाव को अब चुनाव आयोग की कठपुतली का सहारा बचा है। ‘

चुनाव आयोग पर सवाल उठाते हुए सुरजेवाला ने कहा,’ इस मामले में चुनाव आयोग दोहरा रवैया अपना रहा है। लगता है कि चुनाव आयुक्त प्रधानमंत्री के निजी सचिव की तरह काम कर रहा है।’ चुनाव आयोग पर भेदभाव का आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा की आयोग का कांग्रेस के लिए अलग रूख है जबकि भाजपा के लिए अलग। राहुल के इंटरव्यू पर चैनल को नोटिस थमा दिया जाता है जबकि भाजपा द्वारा 8 दिसम्बर को मैनफ़ेस्टो जारी करने पर कोई कार्यवाही नही होती। प्रधानमंत्री द्वारा फ़िक्की में राजनीतिक भाषण देने पर कोई नोटिस नही जाता।

उधर कांग्रेस की प्रेस वार्ता से भाजपा का पारा भी चढ़ गया है। भाजपा की और से केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल और निर्मला सीतारमन चुनाव आयोग जाकर कांग्रेस की शिकायत करने की तैयारी कर रहे है। वही कांग्रेस भी चुनाव आयोग के सामने प्रदर्शन करने की तैयारी कर रही है। चाहे गुजरात के चुनाव शाम 5 बजे तक ख़त्म हो जाए लेकिन सियासी जंग अभी भी जारी है।

Loading...