Monday, September 20, 2021

 

 

 

विपक्ष के प्रतिरोध के बावजूद तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध: पीएम मोदी

- Advertisement -
- Advertisement -

गांधीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि सरकार ‘कट्टरपंथियों’ और विपक्षी दलों के विरोध तथा बाधाओं का सामना करने के बावजूद तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) महिला मोर्चा के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, “सारी बाधाओं और कट्टरपंथियों व विपक्ष के प्रतिरोध के बावजूद सरकार तीन तलाक के विरुद्ध कानून बनाने के लिए प्रतिबद्ध है, ताकि मुस्लिम महिलाओं को अपने सामाजिक जीवन में बड़ी असुरक्षा से छुटकारा मिले।” सरकार ने पिछले साल मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार सुरक्षा) विधेयक लाया था, जिसे लोकसभा में उसी दिन पारित कर दिया गया, लेकिन विधेयक राज्यसभा में अटक गया जहां सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन को बहुमत नहीं है।

मोदी ने कहा, ‘हम प्रतिबद्ध हैं ताकि मुस्लिम महिलाओं को जिंदगी के एक बड़े खतरे से मुक्ति मिल सकें। हमने मुस्लिम महिलाओं के हज पर जाने के लिए उनके साथ किसी पुरुष का साथ होने की शर्त हटा दी।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की महिलाओं ने बीजेपी को ‘अन्य सभी विकल्पों को तलाशने के बाद बड़ी उम्मीद और विश्वास के साथ’ मौका दिया है।

उन्होंने कहा, ‘पिछले छह से सात दशकों में विभिन्न विकल्पों की तलाश करने के बाद देश में हमारी बहनों और बेटियों ने बीजेपी पर भरोसा जताया। पूर्ववर्ती सरकारों ने महिलाओं को मूल सुविधाएं तक उपलब्ध कराने में कुछ नहीं किया और उन्होंने बस वादे किए।’

triple talaq 1 620x400

पीएम कहा कि जिन्होंने 60 से 70 वर्षों तक भारत पर राज किया वे महिलाओं के कल्याण के लिए मूल सुविधाएं तक उपलब्ध कराने में विफल रहे। पूर्ववर्ती सरकारें सामाजिक सुधार लाने और रवैया बदलने के लिए बस सही समय का इंतजार करती रहीं।

मोदी ने कहा कि पिछले चार वर्षों में बालिकाओं और महिला सशक्तिकरण की ओर समाज के नजरिए में सकारात्मक बदलाव आया है। उन्होंने स्वच्छ भारत अभियान, उज्ज्वला योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, प्रधानमंत्री आवास योजना का उदाहरण देते हुए कहा, ‘पहली बार सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाएं महिलाओं पर केंद्रित हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles